IPS अफसर का खुलासा : 'लड़कों से ज्यादा बुड्ढे छेड़ते हैं लड़कियां'

नई दिल्ली (21 जुलाई): उत्तर प्रदेश की राजधानी में महिलाओं को सुरक्षा देने वाली हेल्पलाइन 1090 बनाने वाली अफसर, आईजी नवनीत सीकेरा सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव हैं। उन्होंने हाल ही में एक हैरान कर देने वाला पोस्ट डाला है। 

आईपीएस सीकेरा के मुताबिक महिलाओं के साथ होने वाले क्राइम के पीछे 68 फीसदी ऐसे आदमी जिम्मेदार हैं जिनकी उम्र 50 से अधिक है। उन्होंने अपनी पोस्ट का टाइटल 'डर युवाओं से नहीं, ऐसे विक्षिप्त बुड्ढों से है' दिया है।

क्या लिखा पोस्ट में

"डर युवाओं से नहीं ऐसे विक्षिप्त बुड्ढों से है"

"जी हाँ ये डाटा रिपोर्ट है 1090 की, कुल मिलाकर अब तक 573 को 1090 द्वारा जेल भेजा गया और इनमें से 68 प्रतिशत अपनी जिंदगी का अर्ध शतक लगा चुके हैं । हैरानी की बात है पर एक दम सच। कल ही जिन महानुभाव रवि शंकर को जेल भेजा गया उसकी भी उम्र 58 से ऊपर की है । बेचारी लड़की को जॉब की सख्त जरूरत थी उसको कोल्ड ड्रिंक्स में नशीला पदार्थ मिलाकर उसकी आपत्तिजनक फोटो खींच ली और लगा ब्लैकमेल करने । लोक लाज के भय से लड़की सहती रही हद तब हो गयी जब इसने उसकी पिक्स को फेसबुक प्रोफाइल बनाकर अपलोड कर दिया। लड़की को किसी ने 1090 पर फ़ोन करने की सलाह दी । 1090 टीम ने त्वरित कार्यवाही करते हुए फेसबुक ब्लॉक करवाया और इसको कल गिरफ्तार किया और जेल भेजा। मैं मीडिया के बन्धुओं शुक्रिया अदा करना चाहूँगा , उन्होंने लड़की की पहचान को गोपनीय रखा , मेरा साधुवाद।

अनैतिक/अपराधिक काम करे ये बुड्ढा और मुँह छुपाए घूमे वह असहाय लड़की , इससे बड़ा कोई अन्याय नहीं हो सकता । युवाओं से अनुरोध है दिखा दीजिये सोशल मीडिया की ताकत , बदल डालिए पुरानी सोच को । इतना हल्ला मचा दीजिये कि पीड़िता नहीं अब इन जैसे लोग मुँह छुपाने को मजबूर हो जाएँ और समाज की ताकत से डरें।"

कौन हैं नवनीत?

- मीडिया में आई रिपोर्ट के मुताबिक, नवनीत सीकेरा 1996 बैच के आईपीएस हैं। - आईएएस के लिए चयनित हुए, लेकिन आईपीएस चुना। - 1090 के फाउंडर ऑफिसर हैं। - अब तक 50 से ज्‍यादा एनकाउंटर कर चुके हैं।