भारत में घुसने की फिराक में दो पाकिस्तानी नाव, समुद्री सीमा पर बढ़ी चौकसी

नई दिल्ली(3 अक्टूबर): एलओसी पर भारत की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान की सीमा से लगे भारत के सभी राज्य हाई अलर्ट पर हैं। इस बीच मल्टी एजेंसी सेंटर (MAC) ने गुजरात सहित सभी सीमावर्ती राज्यों को यह चेतावनी जारी की है कि पाकिस्तान के कराची से निकली दो संदिग्ध नाव गुजरात या महाराष्ट्र की तरफ बढ़ रही हैं।

- मल्टी एजेंसी सेंटर के इंटेलिजेंस इनपुट में नाव की लंबाई-चौड़ाई भी बताई गई है। साथ ही यह जानकारी भी दी गई है कि इनमें से एक नाव में कुछ तकनीकी दिक्कत आ गई है जबकि दूसरी नाव बिलकुल ठीक है। 

- उच्च अधिकारियों ने बताया कि भारतीय कोस्ट गार्ड पहले से सतर्क है और इसी का नतीजा है कि रविवार को पोरबंदर तट पर 9 लोगों सहित एक पाकिस्तानी नाव को पकड़ा गया था। रविवार को पड़की गई नाव के बारे में कोस्ट गार्ड अधिकारी ने बताया, 'प्रथम दृष्टया यह मछली पकड़ने वाली नाव लग रही है। हालांकि उसमें सवार सभी लोगों को सुरक्षा एजेंसियों की पूछताछ के लिए पोरबंदर ले जाया गया है।'

- राज्य की सुरक्षा एजेंसियों से भी कहा गया है कि वे गुजरात के सीमावर्ती जिलों में कैंप करें ताकि आतंकवादी हमले या घुसपैठ की कोशिश के हालात में किसी भी अप्रिय घटना से निपटा जा सके। इसके अलावा गुजरात के पश्चिमी कच्छ, पूर्वी कच्छ, पाटन और बनासकांठा में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

- पुलिस के बड़े अफसरों के मुताबिक बीएसएफ की तैनाती के अलावा, सेना और नेवी, सीमावर्ती जिलों की 22 चेकपोस्ट्स को अलर्ट कर दिया गया है। एक बड़े पुलिस अधिकारी ने बताया, 'चार सीमावर्ती जिलों में 16 अति संवेदनशील रास्तों को चिन्हित किया गया है। पश्चिमी कच्छ के 7 रास्तों पर 14 कैमल पट्रोल पार्टीज को तैनात किया गया है जिन्हें घुसपैठियों के पदचिन्हों को पहचानने की तरीका पता है। इसी तरह, पूर्वी कच्छा में 4 रास्तों पर कैमल पट्रोल पार्टीज तैनात हैं, पाटन में दो रास्तों पर और बनासकांठा पर तीन रास्तों पर।'