पाकिस्तान के एटमी हथियारों को लेकर अमेरिका ने जताई ये फिक्र

नई दिल्ली (4 अगस्त): अमेरिकी कांग्रेस की एक ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में अस्थिरता जारी रहने से इसके परमाणु हथियारों और सामानों पर असर पड़ेगा। इसने चीन से पाकिस्तान को दो परमाणु संयंत्रों की बिक्री को एनएसजी दिशानिर्देशों का उल्लंघन बताया है। 

सीआरएस यानी कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस ने पाकिस्तान के परमाणु हथियारों पर अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्तान के परमाणु हथियारों पर नियंत्रण में अमेरिका और पाकिस्तानी अधिकारी भरोसा बनाए हुए हैं। लेकिन देश में अस्थिरता जारी रहने से इन रक्षा उपायों पर असर पड़ेगा। इसके अलावा भारतीय और पाकिस्तानी परमाणु हथियारों के लगातार विकास होने से दोनों देशों के बीच सामरिक स्थिरता जोखिम में पड़ सकती है।

सीआरएस एक स्वतंत्र शोध संस्था है, जो सांसदों को फैसले लेने को लेकर सूचना देने के लिए समय-समय पर रिपोर्ट तैयार करता है।