सेना से रिटायर्ड हो जायेगी इनसास रायफल, मिलेंगे विदेशी हथियार

नई दिल्ली (6 मार्च): लगभग 20 साल तक दुश्मनों को ठण्डा कर देने वाली इनसास राइफल अब रिटायर्ड होजायेगी। इसके जगह हायर कैलिबर की विदेशी रायफल लेगी। शुरुआत में इसकी सप्लाई विदेश से ही होगी। बाद में इस रायफल को भारत में ही बनाया जायेगा।

 मीडिया से मिली जानकारी के अनुसार पाकिस्तान ने अपनी सेना और रेंजरों को जर्मन एसाल्ट रायफल दे दीं हैं। इनके सामने भारत की इनसास रायफल उन्नीस बैठ रहीं थी। जर्मन रायफल से 500 मीटर तक अचूक निशाना लगाया जा सकताहै। भारत ने स्मॉल आर्म्स बनाने वाली 18 कंपनियों से संपर्क किया है। इनमें से कुछ ऐसी भारतीय कंपनियां भी हैं जिनका विदेशी कंपनियों के साथ साझा उपक्रम है। भारत लगभग 2 लाख रायफलो की खरीद करेगा।