3 दशक तक देश की समुद्री सरहद की रक्षा करने के बाद #INSViraat ने कहा अलविदा

नई दिल्ली (6 मार्च): 30 साल तक भारत की समुद्री सरहद की सुरक्षा में तैनात भारतीय नौसेना की शान विमानवाहक युद्धपोत ‘आईएनएस विराट’ आज रिटायर होने जा रहा है। मुंबई में नौसेना के डॉकयार्ड में विराट को अंतिम विदाई दी जाएगी। 12 मई 1987 को नौसेना में शामिल किए गए इस युद्धपोत ने 15 साल तक अकेले भारत के दोनों समुद्री तटों- पूर्व और पश्चिम की रक्षा की है। अरब सागर से लेकर बंगाल की खाड़ी तक अकेले ही दुश्मनों की नापाक हरकतों पर ही नजर रखी और किसी को पास फटकने तक नहीं दिया। विराट के नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में सबसे ज्यादा वक्त तक समंदर में सेवा का कीर्तिमान दर्ज है इसीलिए इसे 'ग्रेट ओल्ड लेडी' के नाम से भी जाना जाता है। 

आइए जानते हैं समुद्र में ‘आईएनएस विराट’ के 30 साल बेमिसाल-

    * 1980 में भारतीय नौसेना ने इसे 6.5 करोड़ डॉलर यानी 433 करोड़ रुपए में खरीदा था।

    * 2017 के हिसाब से इसकी कीमत 20 करोड़ डॉलर यानी 1300 करोड़ रुपए बैठती है।

    * 12 मई 1987 को आधिकारिक तौर पर इसे भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था।

    * भारतीय नौसेना में शामिल होने के पहले आईएनएस विराट ब्रिट्रेन की रॉयल नेवी में था।

    * 1959 में ये जहाज रॉयल नेवी में शामिल हुआ, उस वक्त इसका नाम ‘एचएमएस हर्मेस’ था।

    * एचएमएस हर्मेस का निर्माण कार्य दूसरा विश्व युद्ध के दौरान 1944 में शुरू हुआ था।

    * की रॉयल नेवी की तरफ से इसने अर्जेंटीना के खिलाफ फॉकलैंड वॉर में हिस्सा लिया था।

    * विराट 24 हजार टन वजनी, 743 फुट लंबा और 160 फुट चौड़ा विमानवाहक युद्धपोत है।

    * विराट में 76000 शाफ्ट हॉर्सपावर के स्टीम इंजन लगे हुए हैं, जो इसे समंदर में दौड़ाते हैं।

    * इस पोत में करीब 1500 नौसैनिक दर्जनों लड़ाकू विमान और हैलिकॉप्टर तैनात रहते थे।

    * इस जहाज पर 10-12 फाइटर प्लेन और 7-8 हैलीकॉप्टर रहते थे।

    * जहाज में एक समय में 150 ऑफिसर और 1500 नाविक रहते थे।

    * विराट जब समंदर में निकलता था तो साथ में तीन महीने का राशन लेकर निकलता था।

    * विराट संमदर में एक छोटा शहर है, इसमें लाइब्रेरी, जिम, एटीएम, अस्पताल सब हैं।

    * समुद्र की लहरों को 52 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से चिरता रहा है विराट।

    * विराट के डेक से कई लड़ाकू विमानों ने 22 हजार 622 बार उड़ान भरी है।

    * विराट ने करीब 2,252 दिन और 10,94,215 किमी का सफर समुद्र में तय किया है।

    * अगर इसको नापा जाए तो विराट ने 27 बार पूरी दुनिया का चक्कर लगाया है।

    * विराट पर सी-हैरियर लड़ाकू विमान व सीकिंग हेलीकॉप्टर तैनात रहते थे।

    * मिग, सुखोई, मिराज आदि सुपरसोनिक फाइटर प्लेन विराट से उड़ान भर चुके हैं।

    * विराट ने जुलाई, 1989 में ऑपरेशन जुपिटर में पहली बार श्रीलंका में हिस्सा लिया।

    * 2001 में संसद पर हमले के बाद ऑपरेशन पराक्रम में भी विराट की भूमिका थी।

    * आईएनएस विराट अपने आखिरी मिशन पर 18 दिसंबर को मुंबई से रवाना होकर गोवा पहुंचा था।

भारत की समंदर में ताकत

समुद्र में ताकत 
भारत 
चीन 
पाकिस्तान
एयरक्राफ्ट कैरियर 
1
1
0
फ्रिगेट
15
49
10
डेस्ट्रायर 
10
25
0
छोटे जहाज (कर्वटिज)
25
23
0
सबमरीन 
17
69
8
न्यूक्लियर सबमरीन
2+1
4
0

पाकिस्तान से ज्यादा  ताकतवर है भारत... - समुद्र में भारत की ताकत पाकिस्तान से कही ज्यादा है। - भारत के पास करीब 200 युद्धपोत हैं पाक ने 70 युद्दपोत समंदर में उतारे हैं - भारत के पास एयरक्राफ्ट कैरियर आईएनएस विक्रमादित्य है पाकिस्तान के पास नहीं। - भारतीय नौसेना के पास 16 पनडुब्बी है,6 तैयार होने वाली हैं तो पाक के पास 8 पनड़ुब्बी। - भारत के पास आईएनएस चक्र जैसे परमाणु पनडुब्बी है लेकिन पाकिस्तान के पास नहीं।