News

चौटाला की पार्टी INLD पर किसका हक ?

हरियाणा में आईएनएलडी पर हक की लड़ाई तेज होती नजर आ रही है। पार्टी में मचे घमासान के बीच आज ओमप्रकाश चौटाला के दोनों बेटे अपनी-अपनी ताकत तौलने जा रहे हैं

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 17 नवंबर ): हरियाणा में आईएनएलडी पर हक की लड़ाई तेज होती नजर आ रही है। पार्टी में मचे घमासान के बीच आज ओमप्रकाश चौटाला के दोनों बेटे अपनी-अपनी ताकत तौलने जा रहे हैं। जींद में अजय चौटाला ने कार्यकारिणी की बैठक तो अभय चौटाला ने चंडीगढ़ में अहम बैठक बुलाई है। आपको बता दें कि दुष्यंत और दिग्जिवय चौटाला को आईएनएलडी से निकाले जाने के बाद उनके पिता अजय चौटाला को भी पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। इसके बाद चौटाला परिवार में पार्टी पर कब्जे की लड़ाई तेज होती नजर आ रही है। ओमप्रकाश चौटाला के दोनों बेटों अजय चौटाला और अभय चौटाला ने अलग-अलग बैठक बुलाई है। इसके जरिए उनका इरादा शक्ति प्रदर्शन का है। अजय चौटाला ने जहां जींद में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक बुलाई  है वहीं अभय चौटाला ने चंडीगढ़ में पार्टी की अहम बैठक बुलाई है।जींद के दीप पैलेस होटल में प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद अजय चौटाला हुड्डा ग्राउंड में एक जनसभा भी करेंगे। जिसके जरिए उनकी मंशा पार्टी में अपनी ताकत का अहसास कराना है। इसमें अजय चौटाला के दोनों बेटों हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला समेत पार्टी के सांसद-विधायक समेत तमाम पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के पहुंचने का दावा किया जा रहा है। जींद में कार्यकारिणी की बैठक में पार्टी पर हक को लेकर कोर्ट जाने या नहीं जाने या फिर अजय चौटाला नई पार्टी बनाएंगे। इन सब अहम मुद्दों पर मंथन किया जाएगा और फिर हुड्डा ग्राउंड की होने वाली जनसभा में लिये गये फैसले को पढ़कर सुनाया जाएगा।

पार्टी पर हक को लेकर अजय और अभय चौटाला गुट के नेताओं के अपने-अपने दावे हैं और इन सबके बीच पार्टी के सभी विधायक अंडरग्राउंड हो गए हैं। जिनमें से कोई जींद पहुंचेगा तो कोई चंडीगढ़। आपको बता दें कि 7 अक्टूबर को गोहाना में देवीलाला की जयंती पर आयोजित पार्टी की रैली में हंगामा मचने को लेकर दुष्यंत और दिग्विजय को जिम्मेदार मानते हुए उन्हें पार्टी से बाहर निकाल दिया गया था। हालांकि इस सबके पीछे की अहम वजह चौटाला परिवार में पारिवारिक सत्ता की लड़ाई को लेकर छिड़े विवाद को माना जा रहा है। दरअसल ओमप्रकाश चौटाला के शिक्षक भर्ती घोटाले में जेल जाने के बाद पारिवारिक सत्ता उनके छोटे बेटे अभय चौटाला को मिली। इससे चौटाले के बड़े बेटे अजय चौटाला का परिवार खुद को आहत महसूस करने लगा और तभी से पार्टी पर कब्जे को लेकर दोनों भाइयों अजय चौटाला और अभय चौटाला में ठनी हुई है।ज्यादा जानकारी के लिए देखिए 24 की ये खास रिपोर्ट...


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top