आखिरी रेस में ट्रैक पर गिरकर बाहर हुए उसेन बोल्ट, फैंस का टूटा दिल

नई दिल्ली (13 अगस्त): दुनिया के महानतम ऐथलीटों में शुमार जमैका के फर्राटा धावक उसेन बोल्ट एक बार फिर चूक गए। उनका गोल्डन विदाई का सपना धरा का धरा रह गया। 30 के बोल्ट वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप की 4X100 मीटर रिले रेस पूरी नहीं कर सके, क्योंकि वह चोटिल होकर रेस से बाहर हो गए। इससे पहले एथलेटिक्स चैंपियनशिप में रविवार को बोल्ट नाकामयाब रहे थे।

करियर की उस आखिरी 100 मीटर फर्राटा रेस में उन्हें तीसरे स्थान पर रहना पड़ा था। अमेरिकी एथलीट जस्टिन गैटलिन वह बाजी जीत गए थे और गोल्ड मेडल के हकदार बने थे। उसके बाद बोल्ट के फैंस उनके करियर की आखिरी चार गुणा सौ मीटर रेस में स्वर्ण पदक की आस लगाए बैठे थे।

11 वर्ल्ड और 8 बार के ओलंपिक गोल्ड मेडल विजेता बोल्ट जमैका की 4X100 मीटर रेस में अपनी टीम के साथ आखिरी लैप में रेस के लिए तैयार थे। जमैका के तीन धावकों ने अपना काम 300 मीटर तक पूरा कर दिया था, लेकिन अंतिम दौर में बोल्ट चोटिल होकर मैदान पर गिर पड़े और रेस पूरी नहीं कर सके। इस रेस का गोल्ड मेडल ब्रिटेन के नाम रहा। सिल्वर मेडल अमेरिका और ब्रॉन्ज जापान के हिस्से में आया।