अब भारत में होगा दुनिया का सबसे ऊंचा क्लॉक टॉवर

बेंगलुरु (2 फरवरी) :  अकेली इमारत के तौर पर दुनिया का सबसे ऊंचा क्लॉक टॉवर अब भारत में होगा। सॉफ्टवेयर कंपनी इन्फोसिस इस फ्रीस्टैंडिंग टॉवर को मैसूर के अपने 345 एकड़ के ग्लोबल एजुकेशन सेंटर में बनवाएगी।

गॉथिक शैली में बना 135 मीटर ऊंचा यह प्रस्तावित टॉवर बिग बेन, लंदन (96 मीटर), हूवर टॉवर, कैलिफोर्निया (87 मीटर) और मैक्ग्रा टॉवर, कॉर्नेल (53 मीटर) को पीछे छोड़ देगा।

इकनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक इस टॉवर को ऐसे बनाया जाएगा कि ये ग्लोबल एजुकेशन सेंटर की बाकी इमारतों से मेल खाता दिखे। इसमें 19 फ्लोर होंगे और सातवें फ्लोर पर एक बोर्ड रूम होगा। इसे 22 गुणा 22 मीटर के बेस पर खड़ा किया जाएगा। कंपनी का अंदाजा है कि करीब 60 करोड़ रुपये की लागत इसमें आएगी और इसे बनाने में लगभग 20 महीने लगेंगे। कंपनी के संस्थापक एन. आर. नारायण मूर्ति ने क्लॉक टावर की योजना की पुष्टि की है। टॉवर को जानेमाने आर्किटेक्ट हफीज कॉन्ट्रैक्टर ने डिजाइन किया है। हफीज कॉन्ट्रैक्टर ने ही इंफोसिस का मैसूर कैंपस भी डिजाइन किया था।