...तो कल इतिहास रच देंगे कप्तान कोहली

नई दिल्ली (13 अगस्त): टीएम इंडिया के कप्तान कोहली एक और इतिहास रचने के बेहद करीब पहुंच गए हैं। सबकुछ ठीक रहा तो कप्तान कोहली कल यानी कैंडी के पल्लेकेले स्टेडियम में खेले जा रहे तीसरे और अंतिम टेस्ट के तीसरे दिन धोनी समेत भारत के तमाम पूर्व कप्तानों को पीछे छोड़ेते हुए एक अनोखा रिकॉर्ड अपने नाम कर लेगें। इस रिकॉर्ड को बनाने से कोहली और टीम इंडिया महज 9 कदम दूर है। तीन टेस्ट मैचों की सीरीज पर टीम इंडिया पहले ही 2-0 के कब्जा कर चुकी है। गॉल में 304 रनों से जीत, कोलंबो में एक पारी और 53 रन की विराट जीत के बाद टीएम इंडिया की नजर सीरीज क्लीन स्वीप पर है। अगर श्रीलंका के खिलाफ भारत ने तीसरा टेस्ट जीत लिया तो कई रिकार्ड हासिल कर सकते है। 

विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में भारतीय टीम विदेशी धरती पर 6 टेस्ट मैच जीत चुकी है, अगर श्रीलंका के खिलाफ ये टेस्ट मैच भी जीत जाती है तो विराट कोहली, धोनी के रिकार्ड को पीछे छोड़ सकते है और भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान बन जाएंगे। धोनी ने विदेश में खेले 30 मैचों में से 6 मैच में जीत हासिल की थी और विराट ने 12 मैचों में ही 6 में जीत हासिल कर इनकी बराबरी कर ली थी।  

अगर भारत तीसरा टेस्ट मैच भी जीत लेता है तो वो श्रीलंका की धरती पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाली विदेशी टीम बन जाएगी। टीम इंडिया ने अब तक श्रीलंका में 23 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उसे 8 में जीत मिली है। ऐसा करके उन्होंने पाकिस्तान की बराबरी की है। 

अगर टीम इंडिया ने श्रीलंका को क्लीन स्वीप कर के तीसरा मैच भी जीता तो ये क्रिकेट के इतिहास में ये पहला मौका होगा जब भारतीय टीम विदेशी धरती पर 3 टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप कर लेगी। इससे पहले भारत ने अबतक विदेश में केवल दो मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप किया है।

आपको बता दें कि तीसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक श्रीलंका ने अपनी दूसरी पारी में एक विकेट के नुकसान पर 19 रन बना लिया है। फॉलोऑन खेलने उतरी श्रीलंका की शुरुआत दूसरी इनिंग में भी अच्छी नहीं रही और 15 रन पर पहला विकेट गिर गया। उमेश यादव ने 10.4 ओवर में उपुल थरंगा (7) को बोल्ड करते हुए मेजबान टीम का पहला विकेट गिराया। इस तरह अब भी श्रीलंकाई टीम भारत से 333 रनों से पीछे है। अंतिम टेस्ट मैच के दूसरे दिन भारत के पहली पारी के 487 रन के जवाब में श्रीलंका की टीम पहली पारी में 135 रन पर ही ढेर हो गई। पहली इनिंग में टीम इंडिया को 352 रन की लीड मिली।