नाभा जेल से फरार गैंगस्टर नीटा देओल 52 दिन बाद इंदौर से गिरफ्तार

देवेन्द्र भामदरे, इंदौर (17 जनवरी): नाभा सेंट्रल जेल से 5 गैंगस्टर्स के साथ फरार हुए कुलप्रीत सिंह उर्फ नीटा देओल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस  ने कुख्यात अपराधी कुलप्रीत सिंह देवल उर्फ नीटा और पंजाब के ही सुनील कालरा उर्फ शैल्ला को इंदौर पुलिस ने पकड़ने में सफलता हांसिल की है।

नीटा 27 नवंबर को नाभा जेल से अपने साथियों के साथ फरार हुआ था। इनके पास से नगदी और सामान भी पुलिस ने बरामद किया है। दोनों यहां नाम पता बदलकर रह रहे थे। फिलहाल पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है।

नीटा की गिरफ्तारी पर पंजाब पुलिस ने पांच लाख रुपए के इनाम का एलान किया था। पुलिस ने कुलप्रीत सिंह के साथ एक अन्य कुख्यात बदमाश सुनील कालरा को भी गिरफ्तार किया है।

इंदौर पुलिस ने आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि, कुलप्रीत सिंह देवल एवं सुनील कालरा उर्फ शैल्ला पिता सुदर्शन कुमार को खजराना इलाके में स्थित निर्वाणा एम्पायर बिल्डिंग के फ्लैट नंबर 202 से गिरफ्त में लिया गया। तलाशी के दौरान पुलिस को इनके पास 8 मोबाइल फोन, एक लैपटॉप, 92,000 रुपए नकद और अन्य सामान मिला।

नीटा को वर्ष 2015 में एक गैंगस्टर सुक्खा कालवां के हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। तब से वह नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में था। 27 नवंबर को नीटा खालिस्तान लिबरेशन फोर्स का चीफ हरमिंदर सिंह मिंटू और कश्मीर सिंह सहित गैंगस्टर विक्की गौंडर, गुरप्रीत सिंह और अमनदीप ढोटियां सहित फरार हो गया था।