नोटबंदी पर बोले चिंदबरम, इंदिरा की तरह भूल कबूल करें PM

नई दिल्ली(24 दिसंबर): पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की मिसाल देते हुए नोटबंदी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कहा कि जिस तरह इंदिरा ने कबूल किया था कि आपातकाल लगाना उनकी भूल थी, उसी तरह मोदी भी मान लें कि नोटबंदी एक 'त्रुटिपूर्ण' फैसला था।

- चिदंबरम ने नोटबंदी को 'ठीक से समझे और उस पर विचार किए बगैर' किया गया फैसला बताया।

- शुक्रवार को एक जनसभा को संबोधित करते हुए चिदंबरम ने कहा कि इस कवायद के ऐलान के वक्त केंद्र सरकार ने जिन उद्देश्यों को पूरा करने का दावा किया था, उसमें से एक में भी सफलता नहीं मिली है।

- कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बयान का मजाक उड़ाने को लेकर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की। उन्होंने कहा कि मजाक उड़ाने को तो वह भी मोदी का मजाक उड़ा सकते हैं, लेकिन वह ऐसा नहीं करेंगे।

- उन्होंने कहा कि बेहतर होगा कि मोदी पूछे गए सवालों के जवाब दें। चिदंबरम ने कहा, ‘वह (राहुल) कह रहे हैं कि मेरा मजाक उड़ाइए, लेकिन लोगों के सवालों के जवाब दीजिए, सवाल के जवाब देना प्रधानमंत्री की ड्यूटी है। लेकिन वह (मोदी) मजाक उड़ा रहे हैं और अभिनय कर रहे हैं।’

- पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री चिदंबरम ने कहा, ‘मैं भी प्रधानमंत्री की तरह बोल सकता हूं और मजाक उड़ा सकता हूं। लेकिन मैं ऐसा नहीं करूंगा, क्योंकि वह भारत के प्रधानमंत्री हैं।इसके बाद चिदंबरम ने याद दिलाया कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने कबूल किया था कि आपातकाल लागू करना एक भूल थी। उन्होंने कहा कि मोदी को इसी तरह कबूल कर लेना चाहिए कि नोटबंदी एक ‘त्रुटिपूर्ण’ फैसला था, जिससे लोग बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। नोटबंदी पर बीजेपी और मोदी सरकार को लेकर उन्होंने कहा, ‘नोटबंदी एक ऐसा कदम है जिससे 45 करोड़ लोग भिखारियों जैसे बन गए और मध्यम वर्ग भी 45 दिन से परेशान है।’ उन्होंने कहा कि इससे कोई इनकार नहीं कर सकता कि नोटबंदी के कारण पैदा हुई परेशानियां और छह महीने कायम रहेंगी।

500 और 1000 रुपये के पुराने नोट अमान्य करने के पीछे केंद्र के मकसद पर निशाना साधते हुए चिदंबरम ने बताया कि इससे काले धन, भ्रष्टाचार और जाली नोट पर लगाम नहीं लगाई जा सकती। गौरतलब है कि केंद्र ने नोटबंदी के ऐलान के वक्त कहा था कि इससे काले धन, भ्रष्टाचार और जाली नोट पर लगाम लगाई जा सकेगी।