भंवरी देवी हत्याकांड: आरोपी इंदिरा विश्नोई गिरफ्तार, ATS ने CBI को सौंपा

नई दिल्ली(3 जून): राजस्थान के भंवरी देवी हत्याकांड में मुख्य आरोपी  इंदिरा विश्नोई को राजस्थान पुलिस की एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया गया है। जानकारी के अनुसार इंदिरा को सीबीआई को सौंप दिया गया है।

- इंदिरा विश्वनोई पर 5 लाख का इनाम भी रखा गया था। मिली जानकारी के मुताबिक इंदिरा विश्वनोई मध्य प्रदेश के जिले देवास में नर्मदा नदी के किनारे ठिकाना बनाकर रह रही थी। वह साढ़े पांच सालों से फरार चल रही थी।

- आपको बता दें कि इस मामले में एक पूर्व मंत्री और एक विधायक सहित 16 आरोपी अभी जेल में है।

- अब तक हुई जांच के मुताबिक भंवरी देवी के इंदिरा विश्वनोई के भाई और पूर्व विधायक मलखान सिंह से रिश्ते थे। भंवरी देवी के एक बेटी भी मलखान से है। यह बात जांच में साबित की जा चुकी है।

-  राजस्थान की कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे महिपाल मदेरणा की भी भंवरी देवी के साथ एक सीडी भी थी। भंवरी मलखान से अपना हक मांग रही थी। भंवरी से पीछा छुड़ाने के लिए इंदिरा ने अपने रिश्तेदार के साथ उसके अपहरण की साजिश रची। इस साजिश में मलखान और मदेरणा भी शामिल हो गए। साल 2011 में भंवरी को गायब कर दिया गया और उसकी हत्या कर दी गई। इंदिरा ने उस समय सीबीआई से पूछताछ में कहा था कि अगर वह मुंह खोलेगी तो कई बड़े चेहरे फंस जाएंगे। इसके बाद वह गायब हो गई। साढे़ पांच साल बाद उसे फिर से गिरफ्तार किया गया है। इस बीच उसको भगोड़ा भी घोषित कर और पांच लाख का इनाम घोषित कर दिया गया।