NSG: नहीं मान रहा चीन, कहा, सिओल मीट में मेंबरशिप एजेंडा नहीं

नई दिल्ली(20 जून): एनएसजी में भारत की सदस्यता को लेकर चीन ने एक बार फिर अड़ंगा लगाया है। सोमवार को चीन के विदेश मंत्रालय की स्पोक्सपर्सन हुआ चुयिंग ने कहा कि इस हफ्ते के आखिर में सिओल की मीटिंग में भारत को एनएसजी मेंबरशिप देने का कोई एजेंडा शामिल नहीं है।

बता दें कि एक दिन पहले ही सुषमा स्वराज ने कहा था कि चीन भारत के खिलाफ नहीं है बल्कि उसे कुछ एतराज है। बीते कुछ दिनों के भीतर अमेरिका, मैक्सिको, रूस और ब्रिटेन समेत कई देश भारत की मेंबरशिप को सपोर्ट कर चुके हैं। चीन भारत के साथ पाकिस्तान को भी इस ग्रुप में शामिल करने की बात पर अड़ा है।

एनएसजी मेंबरशिप पर भारत के लिए सपोर्ट मांगने फॉरेन सेक्रेटरी एस. जयशंकर 16-17 जून को चीन गए थे। फॉरेन मिनिस्ट्री के मुताबिक, जयशंकर की इस ट्रिप का एलान नहीं किया गया था। ये एक तरह की सीक्रेट विजिट थी। जयशंकर ने वहां अपने काउंटरपार्ट से बात की। हालांकि, इसकी ज्यादा डिटेल्स अभी सामने नहीं आई हैं।

विदेश मंत्रालय के स्पोक्सपर्सन विकास स्वरूप के मुताबिक, "बाइलेटरल मुद्दों पर चर्चा के लिए जयशंकर चीन गए थे। वहां एनएसजी मेंबरशिप के अलावा कई मसलों पर चर्चा हुई।" ये दूसरी बार है जब जयशंकर ने चीन के साथ एनएसजी मेंबरशिप का मुद्दा उठाया है।