यहां दौड़ेगी देश की पहली हाइपरलूप ट्रेन

नई दिल्ली(8 सितंबर): देश में बुहत जल्द बुलेट ट्रेन से भी तेज एक ट्रेन दौड़ेगी। इस ट्रेन का नाम हाइपरलूप है। आंध्र प्रदेश सरकार विजयवाड़ा और अमरावती शहरों को हाइपरलूप के जरिए जोड़ेगी। दोनों शहरों के बीच की एक घंटे की यात्रा घटकर केवल पांच-छह मिनट की रह जाएगी।

- इस प्रॉजेक्ट के लिए आंध्र प्रदेश सरकार ने अमेरिकी कंपनी हाइपरलूप ट्रांसपोर्टेशन टेक्नॉलजीज (एचटीटी) के साथ समझौता किया है। 

- आंध्र प्रदेश इकनॉमिक डिवेलपमेंट बोर्ड (एपी-ईडीबी) और एचटीटी ने समझौता पत्र (एमओयू) पर दस्तखत किया है।

- यह प्रॉजेक्ट पब्लिक-प्राइवेट- पार्टनरशिप (पीपीपी) मोड पर संचालित होगा, जिसकी फंडिंग मुख्य रूप से प्राइवेट निवेशकों की ओर से होगी। हालांकि, आधिकारिक रूप से जारी समझौता पत्र में प्रॉजेक्ट की संभावित लागत के बारे में नहीं बताया गया है।

- फीजिबिलिटी टेस्ट का काम अक्टूबर से शुरू होगा। छह महीने की फीजिबिलिटी स्टडी के बाद एचटीटी भारत में अपना पहला हाइपरलूप बनाना शुरू कर देगी।

- हाइपरलूप चुंबकीय शक्ति पर आधारित एक नई तकनीक है। इसके तहत खंभों के ऊपर (एलिवेटेड) ट्यूब बिछाई जाती है। इसके भीतर बुलेट जैसी शक्ल की लंबी सिंगल बोगी हवा में तैरते हुए चलती है। इसमें बिजली का खर्च बहुत कम है और प्रदूषण बिल्कुल नहीं है।