मैसूर में भारत की पहली पब्लिक साइकिल शेयरिंग स्कीम शुरू

नई दिल्ली ( 5 जून ): कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने मैसूर में एक पब्लिक साइकिल शेयरिंग स्कीम(PBS) ट्रिन-ट्रिन की शुरूआत की है। इस तरह मैसूर भी उन ग्लोबल शहरों की लिस्ट में शामिल हो गया है जहां घूमने के साइकिलों का इस्तेमाल किया जाएगा।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मैसूर को पहले से ही भारत के साफ शहरों में गिना जाता है। यूजर्स को एक स्मार्ट कार्ड लेना होगा जिसे वे स्वाइप करेंगे और डॉकिंग स्टेशन से साइकिल ले पाएंगे। अपने डेस्टिनेशन पर पहुंचकर यूजर इसे किसी भी दूसरे स्टेशन में छोड़ सकते हैं। साइकिल को छोड़ने के बाद स्मार्ट कार्ड से किराया वसूल कर लिया जाएगा।

कुल 450 साइकिलें एक नाम मात्र की फीस के साथ 48 ऑटोमेटेड डॉकिंग स्टेशनों से ली जा सकती हैं। ये स्टेशन टूरिस्ट प्लेस, यूनिवर्सिटी और अस्पतालों के आस-पास होंगे।

इस पहल को वर्ल्ड बैंक, ग्लोबल इन्वाइरनमेंटल फंड और शहरी भूमि परिवहन के राज्य निदेशालय से फंड मिला है। ये साइकिलें मैसूर सिटी कॉर्पोरेशन की हैं और इस प्रॉजेक्ट को ग्रीन वील राइड ऑपरेट कर रहा है।