ये है भारत का END Point, 20 किमी दूर है श्रीलंका

नई दिल्ली (20 मई): अरिचलमुनाई भारत का वह आखिरी हिस्सा है, जहां से श्रीलंका की दूरी मात्र 20 किलोमीटर रह जाती है। यह तमिलनाडु में रामेश्वरम् से ठीक 23 किमी की दूरी पर है। कहा जाता है कि यहां तक जाने के लिए जो पट्टी बनी है, वह रामायण काल के रामसेतु का ही भाग है।


भारतीय सीमा की अंतिम बस्ती धनुषकोड़ी से अरिचलमुनाई की दूरी 4 किमी है। धनुषकोड़ी से आगे बस्ती नहीं है, सिर्फ सड़क है जो रामसेतु प्वांइट तक जाती है। रामेश्वरम् से अरिचलमुनाई जाने पर धनुषकोड़ी से पहले ही एक चेकिंग प्वाइंट बना है। इसके आगे टू-व्हीलर ले जाने की परमिशन नहीं है। कार से जाने के लिए स्पेशल परमिशन लेने पर ही यहां एंट्री मिलती है।


-अरिचलमुनाई जाने के रास्ते पर बाईं तरफ बंगाल की खाड़ी है तो दायीं तरफ मन्नार की खाड़ी और हिंद महासागर।

- यहां बंगाल की खाड़ी बिल्कुल शांत नजर आती है, लेकिन मन्नार की खाड़ी में तेज लहरें उठती रहती हैं।

- कहा जाता है कि जब श्रीराम समुद्र से रास्ता मांग रहे थे तो उसने इनकार कर दिया। तब क्रोध में आकर समुद्र को सुखाने के लिए श्रीराम ने धनुष उठा लिया था। समुद्र ने अपनी गलती मानी और श्रीराम की सेना को रास्ता दिया। तब से एक तरफ का समुद्र शांत है तो दूसरी तरफ लहरों की उथल-पुथल रहती है। इसी रास्ते पर रामसेतु बना है।