बलूचिस्तान पर फंसा पाक, यूरोपियन संघ ने दी पाबंदी की धमकी

जिनेवा (23 सितंबर): लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बलूचिस्तान के लोगों की आवाज उठाना काम करती हुई दिखाई पड़ रही है। यूरोपियन संघ ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर बलूच लोगों के खिलाफ उसकी हरकते बंद नहीं हुई तो उसपर आर्थिक और राजनीतिक प्रतिबंध लगा दिया जाएगा।

यूरोपियन पॉर्लियमेंट के वाइट-प्रेसिडेंट रायसजॉर्ड चेकरेनकी ने पाकिस्तान को यह चेतावनी दी कि अगर वह बलूच लोगों पर अत्याचार रोकने में विफल रहता है तो उसपर आर्थिक और राजनीतिक प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। जब यूरोपियन संघ ने यह पाकिस्तान को चेतावनी दी तब वहां पर बलूच नेता ब्रहामदाग बुगाती भी मौजूद थे। इसके बाद यहां पर पाकिस्तान की सेना के द्वारा मारे गए बलूच लोगों को श्रद्धांजलि भी दी गई।

यूरोपियन यूनियन का यह बयान बलूच और भारतीयों का न्यूयॉर्क में उसके आफिस के बाहर प्रदर्शन करने के बाद आया है। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी बलूचिस्तान में पाकिस्तान पर मानव अधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगा चुके हैं।