सऊदी में बेची गई थी ये महिला, सुषमा की मदद से आएगी भारत

नई दिल्ली (28 अप्रैल): नौकरी का झांसा देकर सऊदी अरब में एजेंट्स की धोखाधड़ी की शिकार हैदराबाद की निवासी सलमा बेगम को भारतीय अथॉरिटीज ने बचा लिया है और वह जल्द ही भारत लौटेंगी। सलमा बेगम एजेंट्स की धोखाधड़ी का शिकार हो गई थीं।


सलमा को कथित रूप से सऊदी अरब में 3 लाख रुपये में बेच दिया गया था, जिसके बाद वह मानसिक और शारीरिक यातनाएं झेल रही थीं। सलमा बेगम को बचाए जाने की जानकारी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके दी है।


सुषमा स्वराज ने ट्वीट में लिखा है, 'भारतीय नागिरक सलमा बेगम को बचा लिया गया है। वह 28 अप्रैल को सुबह 04.15 बजे फ्लाइट जी9406 से मुंबई पहुंचेंगी।' विदेश मंत्री ने सलमा की तेजी से मदद करने के लिए सऊदी की राजधानी रियाद में स्थित भारतीय दूतावास की तारीफ की है। उन्होंने सऊदी स्थित भारतीय दूतावास के समक्ष 24 अप्रैल को सलमा का मामला रखा था। उन्होंने ट्वीट में लिखा है, 'सिर्फ 72 घंटे में मामले को हल करने के लिए मैं रियाद स्थित भारतीय दूतावास के प्रयासों की तारीफ करती हूं।'


सलमा ने अपनी बेटी को भेजे एक ऑडियो मेसेज में कहा था कि जिस एजेंट ने उनके वीजे का प्रबंध किया था, उस एजेंट ने सलमा को 3 लाख रुपये में सऊदी के एक कफील को बेच दिया था। इसके बाद कफील सलमा पर शादी के लिए दबाव बनाने लगा। जब सलमा ने शादी से इनकार कर दिया तो कफील ने उनको मानसिक और शारीरिक यातनाएं देनी शुरू कर दी। सलमा ने मेसेज में भारत सरकार से खुद को भारत वापस लाने की अपील की थी।


सलमा को कथित रूप से एजेंट्स अकरम और शफी ने घरेलू सहायक के वीजे पर सऊदी अरब भेजा था। वित्तीय संकट और कर्ज के कारण सलमा विदेश जाने को मजबूर हुई थीं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने प्रॉटेक्टर जनरल ऑफ एमिग्रेंट्स एम.सी.लूथर से उस एजेंट्स के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा था, जिसने सलमा को सऊदी अरब भेजा था।