अपनी समृद्ध विरासत को डिजिटाइज करने के लिए रेलवे ने गूगल से मिलाया हाथ

नई दिल्ली(5 दिसंबर): भारतीय रेलवे ने अपनी समृद्ध विरासत का डिजिटल भंडार बनाने और यात्रियों को फ्री वर्चुअ्ल टूर देने के लिए एक व्यापक भीड़-सोर्सिंग कवायद करने के लिए गूगल के साथ मिलकर काम किया है।

एक पायलट प्रोजेक्ट में, गुगल कल्चरल इंस्टीट्यूट ने छत्रपति शिवाजी महाराज स्टेशन (सीएसटीएम) में छह वीडियो स्क्रीन तैनात किए हैं, जिसमें राष्ट्रीय ट्रांसपोर्टर के समृद्ध इतिहास और विरासत का प्रदर्शन किया गया है।

रेल मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि एक वर्चअुल विजिट असली चीज़ को कभी भी नहीं बदलेगी लेकिन तकनीक सभी को कला और संस्कृति को खोलने में मदद कर सकती है और हमें लगता है कि यह शक्तिशाली बात है। "

रेलवे के अतीत के लिए यात्रियों को उजागर करने के लिए अन्य स्टेशनों पर इस तरह के अन्य स्क्रीन होंगे।