अब रेलवे के ये कर्मचारी 65 साल की उम्र तक कर सकेंगे नौकरी

नई दिल्ली ( 13 दिसंबर): भारतीय रेलवे ने अपने सेवानिवृत्त कर्मचारियों को फिर से सेवा में लेने की उम्र सीमा बढ़ाकर 65 वर्ष कर दिया है। रेलवे बोर्ड ने मंगलवार को सभी महाप्रबंधकों पत्र लिखकर कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारियों को फिर से सेवा में लेने की उम्र सीमा 62 से बढ़ाकर 65 कर दी गई है, जिससे ऐसे और कर्मचारियों को रेलवे को अपनी सेवाएं देने का मौका मिलेगा।पत्र में कहा गया कि बोर्ड ने सेवानिवृत्त कर्मचारियों की फिर से सेवा में लेने की अधिकतम आयु सीमा बढ़ाकर 65 वर्ष करने का फैसला किया है। यह आयु सीमा फिलहाल 62 वर्ष है।

रेलवे बोर्ड ने पत्र में आगे कहा गया कि इस योजना की वैधता की सीमा 14 सितंबर 2018 से बढ़ाकर 12 जनवरी 2019 करने का भी फैसला किया गया।

रेलवे में कार्यरत लोगों को अब 60 साल की उम्र में सेवानिवृत होने से परेशान नहीं होना पड़ेगा। सेवानिवृति के बाद भी अगर वे रेलवे को अपनी सेवा देना चाहेंगे तो उन्हें रेलवे रि-इंगेज करेगा। बता दें कि पूर्व में रेलवे सेवा निवृति के बाद सिर्फ दो साल की अवधिक के लिए सेवा में विस्तार देता था। इसके साथ ही 2018 तक यह योजना समाप्त होने वाली थी। लेकिन अब रेल मंत्रालय ने नये निर्णय के तहत सेवा विस्तार में पांच साल की छूट दी है। इसी तहर 2019 तक सेवा निवृति होने वालों को इस योजना में शामिल कर लिया गया है।