सरकार का बड़ा ऐलान, अब रेल में तैनात रहेगा डॉक्टर

नई दिल्ली (9 फरवरी): रेलवे को लेकर लोगों की जो सबसे बड़ी शिकायत होती है, उसमें बीमारी के समय में यात्रियों का सही समय पर उपचार नहीं मिलना है। ऐसी ही समस्याओं को दूर करने के लिए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते हुए ऐलान किया है कि अब रेल में डॉक्टर तैनात रहेगा।

लोकसभा में रेल राज्‍यमंत्री राजेन गोहियां ने बताया कि केंद्र सरकार अगले 2 साल के लिए प्रयोग के तौर पर दूरंतो ट्रेनों में डॉक्टर्स की तैनाती करेगी। यह व्‍यवस्‍था प्रयोग के तौर पर दो साल के लिए होगी।

- हल्‍की बीमारियों का इलाज चलती ट्रेन में ही डॉक्‍टर्स द्वारा किया जाएगा।

- ज्‍यादा गंभीर मरीजों को बेहतर इलाज के लिए रास्‍ते में ही ट्रेन से उतार दिया जाएगा।

- ट्रेन में ईसीजी मशीन जैसे उपकरण अच्‍छी तरह काम नहीं करते।

- स्‍टेशन मास्‍टर को उनके स्‍टेशन के दायरे में आने वाले सभी सरकारी व निजी अस्‍पतालों की जानकारी होगी।

- आपातस्थिति में उनकी सेवाएं भी ली जा सकती हैं।

- जरूरत पड़ने पर रेलवे व राज्‍य सरकार की एंबुलेंस सेवा का भी इस्‍तेमाल किया जा सकेगा।

वीडियो: भारतीय रेल से जुड़े रोचक तथ्‍य...