Blog single photo

निर्मला का पलटवार, मनमोहन सिंह, रघुराम राजन के दौर में बैंकिंग सबसे बदतर दौर में पहुंची

आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने देश के आर्थिक हालात को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की थी। अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटवार किया है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 अक्टूबर):  आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने देश के आर्थिक हालात को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की थी। अब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटवार किया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह तथा भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन के कार्यकाल में देश के सरकारी बैंकों ने अपना सबसे बदतर दौर देखा है। न्यूयॉर्क में मंगलवार को कोलंबिया यूनिवर्सिटी के स्कूल ऑफ इंटरनैशनल ऐंड पब्लिक अफेयर्स में एक लेक्चर देते हुए सीतारमण ने कहा कि तमाम सरकारी बैंकों को पुनर्जीवित करना उनकी पहली ड्यूटी है।

कोलंबिया यूनिवर्सिटी में इंडियन इकनॉमिक पॉलिसीज पर दीपक ऐंड नीरा राज सेंटर द्वारा आयोजित लेक्चर के दौरान सीतारमण ने कहा, 'मैं रघुराम राजन की एक बड़े स्कॉलर के रूप में सम्मान करती हूं, जो ऐसे वक्त में आरबीआई का गवर्नर बने, जब अर्थव्यवस्था हर तरह से खुशहाल थी।'

निर्मला सीतारमण ने कहा, 'मैं रघुराम राजन की एक बड़े स्कॉलर के रूप में इज्जत करती हूं, जो ऐसे वक्त में आरबीआई का गवर्नर बने, जब अर्थव्यवस्था हर तरह से खुशहाल थी।' सीतारमण ने आगे कहा, 'रघुराम राजन ही उस वक्त आरबीआई के गवर्नर थे, जब महज राजनेताओं के एक फोन कॉल पर सरकारी बैंकों से लोन दिए गए और उसकी सजा ये बैंक आज तक भुगत रहे हैं।'  इसके साथ ही निर्मला सीतारमण ने पूर्व पीएम डॉ। मनमोहन सिंह के दौर का भी जिक्र कर निशाना साधा।

बता दें कि जब हाल ही में रघुराम राजन ने सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना की है। बीते दिनों एक लेक्‍चर के दौरान रघुराम राजन ने कहा था, ''सरकार के दृष्टिकोण में अनिश्चितता है, यही वजह है कि देश की अर्थव्यवस्था में उल्लेखनीय स्तर पर सुस्‍ती देखने को मिल रही है।'

Tags :

NEXT STORY
Top