इस भारतीय महिला ने ब्रिटेन में 2.2 करोड़ का घर सिर्फ 168 रुपए में बेच दिया, जानें आखिर क्यों

नई दिल्ली ( 31 जनवरी ): कोई भी व्यक्ति अपने घर या किसी और जगह को खरीदे हुए दाम से अधिक दाम में ही बेचता है। कभी मजबूरी में हो तो उसी दाम में बेच दाता है। लेकिन भारतीय मूल की एक महिला अपना घर केवल दो पाउंड (भारतीय करेंसी में 168.80 रुपए) में ही बेच दिया। भारतीय मूल की 43 वर्षीया रेखा पटेल अदालती आदेश से इतना हो गईं कि उन्होंने अपना घर केवल दो पौंड में बेच दिया। बाजार में अभी इस मकान की कीमत 250,000 पौंड (2,10,90,669 रुपये) है। पेशे से शिक्षिका भारतीय मूल की ब्रिटिश महिला ने बेदखल होने से बचने के लिए यह कदम उठाया है।

रेखा पटेल ने 2010 में सिम्मेंडले गांव में दो कमरों वाला कॉटेज 200,000 पौंड में खरीदा था। छह साल पहले घर में कुछ निर्माण कार्यों को लेकर पड़ोसी के साथ विवाद हो गया था। पड़ोसी से चले मुकदमे में अदालत ने उनका घर बेचकर वैधानिक शुल्क एवं अन्य खर्चों की उगाही करने का आदेश दिया था।

उनसे 76000 पौंड की वसूली की जानी थी। भुगतान नहीं करने पर पिछले वर्ष जून में उन्हें घर से निकाल दिया गया था। घर बेचने के अदालती आदेश को चुनौती देने पर एक माह बाद वह फिर इस मकान में रहने आ गईं। उन्होंने वैधानिक शुल्क वसूली के आदेश को खारिज की अर्जी दायर कर दी है।

रेखा पटेल ने कहा, "मैंने बचाने का हर संभव प्रयास किया। घर बेचने के अलावा कोई चारा नहीं था। मैंने महसूस किया कि मालिक बने रहने से किराएदार बनने पर मेरे पास ज्यादा अधिकार होंगे। अपने घर में शांति से रहने के लिए मैंने सभी कानूनी संबंध तोड़ने का फैसला लिया।"

उन्होंने 18वीं सदी के शुरू में बने घर को हाल ही में दो प्राइवेट कंपनियों को बेच दिया और 10 साल का किराया अनुबंध किया है। वह अब इसी घर में 50 पौंड प्रतिमाह किराए पर रह सकेंगी