अच्छे ग्रेड के लिए भारतीय मूल के प्रोफेसर रखी फिजिकल रिलेशन की शर्त !

नई दिल्ली (1 फरवरी):  एक प्रमुख लेबर सांसद ने आरोप लगाया है कि दशकों पहले जब वह यॉर्क यूनिवर्सिटी में छात्र थीं तो भारतीय मूल के एक प्रोफेसर ने उनसे कहा था कि अगर वह शारीरिक संबंध बनाने के लिये तैयार हो जाती हैं तो उन्हें बेहतर ग्रेड से नवाजा जाएगा। ब्रिटेन की लगातार सबसे ज्यादा समय तक महिला सांसद रहने वाली हैरिएट हारमन ने अपनी नई आत्मकथा 'अ विमिंज वर्क' में कहा कि 1970 के दशक में यूनिवर्सिटी में टीवी सत्यमूर्ति उन्हें राजनीति पढ़ाते थे। आगे उन्होंने कहा कि प्रफेसर ने उनसे पेशकश की थी कि अगर वह उनके साथ सेक्स करने के लिए रजामंद हो जाती हैं तो उन्हें बेहतर ग्रेड से नवाजा जाएगा।

हैरिएट ने अपनी आत्मकथा में लिखा, 'यॉर्क में अपने समय के अंतिम दिनों में मेरे शिक्षकों में से एक टीवी सत्यमूर्ति ने मेरी फाइन डिग्री के बारे में बातें करने के लिए मुझे बुलाया। उन्होंने मुझसे कहा कि मैं 2:1 और 2:2 के बीच बॉर्डरलाइन पर हूं, लेकिन अगर मैं उनके साथ फिजिकल रिलेशन बनाती हूं तो निश्चित तौर पर यह 2:1 होगा।' दक्षिण पूर्व लंदन से 1982 से लगातार सांसद रहने वाली 68 वर्षीय हैरिएट ने कहा कि उन्हें प्रोफेसर की यह पेशकश घृणित लगी। उनकी आत्मकथा गुरुवार को प्रकाशित होगी। चेन्नै में 1929 में जन्मे सत्यमूर्ति ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से शिक्षा ग्रहण की। वह अमेरिका गए। फिर ब्रिटेन गए और वहीं बस गए। कई किताबों के लेखक सत्यमूर्ति का निधन 1998 में हो चुका है।