भारतीय मूल के पिल्लई बने सिंगापुर के एक्टिंग प्रेसिडेंट

नई दिल्ली(1 सितंबर): भारतीय मूल के पूर्व नौकरशाह जे. वाई. पिल्लई शुक्रवार को सिंगापुर के एक्टिंग प्रेसिडेंट बने। पिल्लई इस पद पर तब तक रहेंगे, जब तक कि देश के नए प्रेसिडेंट शपथ न ले लें। 

- नए प्रेसिडेंट सितंबर में ही पद की शपथ ले सकते हैं।

-  83 साल के पिल्लई ने टोनी टान केंग याम की जगह ली है, जिनका प्रेसिडेंट के तौर पर 6 साल का टेन्योर गुरुवार को पूरा हो गया। 

- पिल्लई काउंसिल ऑफ प्रेसिडेंशियल एडवाइजर्स के चेयरमैन हैं। वे तब तक प्रेसिडेंट के तौर पर काम करेंगे, जब तक कि 13 सितंबर को नॉमिनेशन वाले दिन या 23 सितंबर को चुनाव वाले दिन के बाद कोई कैंडिडेट इलेक्ट नहीं हो जाता।

- द स्‍ट्रेट्स टाइम्‍स ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि प्रेसिडेंट का ऑफिस खाली होने पर CPA के चेयरमैन या फिर पार्लियामेंट के स्पीकर को ही प्रेसिडेंट पोस्ट की जिम्मेदारी सौंपी जाती है।