हिंद महासागर में दिखे तीन चीनी युद्धपोत, इंडियन नेवी ने कहा- 24 घंटे हैं तैयार

नई दिल्ली (18 अप्रैल): हिंद महासागर में चीन के तीन युद्धपोत दिखने के बाद भारतीय नौसेना की तरफ से अलग अंदाज में उनका स्वागत किया गया है। भारतीय नेवी के तरफ से ट्वीट कर यह कहा गया है कि आपको देख रहे हैं।

#MaritimeDomainAwareness @indiannavy extends a warm welcome to the 29th Anti-Piracy Escort Force (APEF) of PLA(N) in Indian Ocean Region (IOR). Happy Hunting @SpokespersonMoD @DefenceMinIndia @IAF_MCC @adgpi @IndiaCoastGuard @IndianDiplomacy pic.twitter.com/7NTW4TwQuW

— SpokespersonNavy (@indiannavy) April 17, 2018

हिंद महासागर में चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी की नेवी के तीन युद्धपोतों के घुस आने को लेकर नौसेना ने ट्वीट किया, 'पीएलए-नेवी की 29वीं ऐंटी-पाइरेसी एस्कॉर्ट फोर्स का हिंद महासागर क्षेत्र में स्वागत है। हैपी हंटिंग।' चीन का कहना है कि उसने अपने वॉरशिप्स को पाइरेसी के मद्देनजर तैनात किया है और उसका लक्ष्य हिंद महासागर क्षेत्र में रिसर्च के लिए बेस तैयार करना है।

पाइरेसी को ध्यान में रखकर चीन प्राय: अपनी नौसेना को हिंद प्रशांत क्षेत्र में तैनात करती रही है। भारतीय नेवी की तरफ से स्वागत ट्वीट के बाद एक और ट्वीट किया गया जिसमें अपने युद्धपोत का मैप भेजा गया और यह बताया गया कि किस तरह उस इलाके की सुरक्षा के लिए 24/7 युद्धपोत की तैनाती रहती है।

#MissionBasedDeployments From Persian Gulf to Malacca Straits & from Northern Bay of Bengal to Southern Indian Ocean to East coast of Africa @indiannavy with 50 ships on vigil 24X7 keep our Area of Responsibility (AOR) safe. @indiannavy Anytime, Anywhere Everytime @nsitharaman pic.twitter.com/rxmBAed5Sa

— SpokespersonNavy (@indiannavy) April 17, 2018

नेवी के 'मिशन बेस्ड डिप्लॉयमेंट' के तहत युद्ध की स्थिति में किसी भी हालात से निपटने में सक्षम 50 वॉरशिप्स को हिंद महासागर क्षेत्र में तैनात किया गया है। गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से चीन लगातार हिंद महासागर में अपनी मौजूदगी बढ़ाने की कोशिश कर रहा है।