इंडियन नेवी में पहली बार शामिल हुई महिला पायलट

नई दिल्ली (22 नवंबर): साल 2015 में महिलाओं को पायलट के तौर नौसेना में शामिल करने की मंजूरी मिली थी जिसके बाद उनके टोही विमानों में तैनाती का रास्ता साफ हो गया था, और अब इसी कड़ी में पहली बार शुभांगी स्वरूप के रुप में इंडियन नेवी को पहली महिला पायलट मिल गई है।

बुधवार को केरल स्थित इंडियन नेवल अकैडमी की पासिंग आउट परेडमें शामिल शुभांगी स्वरूप भी थीं, जिन्हें नेवी में बतौर पायलट पहली बार परमानेंट कमिशन मिला है। शुभांगी स्वरूप नौसेना की समुद्री टोही टीम में पायलट होंगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, उन्हें पी-8आई विमान उड़ाने का मौका मिलेगा।

शुभांगी को सेना का समुद्री गश्ती विमान उड़ाने का मौका मिल सकता है, साथ ही उन्हें दुश्मनों का मुकाबला करने का गौरव भी प्राप्त हो सकता है। हालांकि, इसके लिए पहले उनकी ट्रेनिंग होगी। बताया जा रहा है कि कोच्चि में नेवी के एयर स्टेशन में INS गरुड़ पर उन्हें ट्रेनिंग दी जाएगी।

इंडियन नेवी में कमांडर ज्ञान स्वरूप की बेटी शुभांगी ने मीडिया को बताया, 'ये एक चुनौती है और मैं वादा करती हूं कि उम्मीदों पर खरा उतरूंगी। शुभांगी स्वरूप के अलावा आस्था सहगल, रूपा ए. और शक्तिमाया एस. को नौसेना के आर्मामेंट इंस्पेक्शन ब्रांच में पहली बार शामिल किया गया है। नेवी और इंडियन कोस्ट गार्ड की पासिंग आउट परेड में कुल 328 कैडेट्स शामिल हुए। इनमें एक-एक कैंडेट तंजानिया और मालदीव से थे।