US कानून ने दाह संस्कार करने से रोका, दफन होगी भारतीय की बॉडी

नई दिल्ली(18 जुलाई): अमेरिका में एक्सीडेंट में मारे गए भारतीय टेक्नोक्रेट चंदन गवई का दाह संस्कार नहीं होगा बल्कि दफनाया जाएगा। अमेरिका में अंतिम संस्कार के लिए वाइफ की इजाजत जरूरी होती है। चंदन की वाइफ कोमा में हैं। इसके चलते उनकी सहमति नहीं मिल पाई है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने न्यूयॉर्क में भारत की कॉन्सुलेट जनरल रीवा गांगुली को चंदन को दफनाने के लिए कहा है। 4

चंदन की कार का 4 जुलाई को न्यूयॉर्क में एक पिकअप ट्रक से एक्सीडेंट हो गया था। हादसे में चंदन और उनके माता-पिता की भी मौत हो गई। वाइफ मनीषा सुरवादे (32) कोमा में हैं।  अमेरिकी रूल्स के मुताबिक, अंतिम संस्कार के लिए पत्नी की परमिशन जरूरी होती है। चंदन को तब तक दफनाए रखा जाएगा, जब तक मनीषा कोमा से बाहर नहीं आ जातीं। चंदन के फैमिली मेंबर्स ने गांगुली का प्रपोजल मान लिया है।