भारतीय पत्नी से मिलने के लिए कोर्ट की शरण में पहुंचा पाकिस्तानी शख्स


नई दिल्ली(12 मई): पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में इंडियन हाई कमीशन में मौजूद भारतीय महिला उज्मा के पति ताहिर अली ने कोर्ट से अपील की है। ताहिर ने पत्नी उज्मा से मिलने की इजाजत मांगी है। कोर्ट इस पर सोमवार को सुनवाई करेगा।


- ताहिर ने कहा- उज्मा मेरे बारे में सब जानती थी, मैं उससे मिलकर गलतफहमियां दूर करना चाहता हूं।


- बता दें कि उज्मा ने आरोप लगाया था कि ताहिर ने उसे पाकिस्तान लाकर बंदूक की नोक पर शादी की थी। बाद में उज्मा ने इंडियन हाई कमीशन में पनाह ली थी। तब से वो यहीं है।


- न्यूज एजेंसी से बातचीत में ताहिर ने कहा, “मैं उज्मा से अकेले में मिलकर तमाम गलतफहमियां दूर करना चाहता हूं। लेकिन, इंडियन हाई कमीशन इसकी इजाजत नहीं दे रहा है। मैंने हाईकोर्ट से इसकी गुजाारिश की है।”


- ताहिर ने आरोप लगाया कि उज्मा का भाई वसीम और इंडियन हाई कमीशन उज्मा और उसके बीच गलतफहमियां पैदा कर रहे हैं। ताहिर का ये भी दावा है कि 

उज्मा उसकी पहली शादी और चार बच्चों के बारे में पहले से जानती थी। निकाह कानूनी तौर पर हुआ और गवाह भी मौजूद थे।


- दिल्ली की रहने वाली 20 साल की उज्मा और ताहिर की मुलाकात मलेशिया में हुई। ताहिर वहां टैक्सी ड्राइवर था।


- 1 मई को ताहिर और उज्मा पाकिस्तान पहुंचे। 3 मई को कथित निकाह हुआ। भारतीय वीजा के लिए उज्मा ताहिर इंडियन हाई कमीशन पहुंचे। ताहिर का आरोप है कि वहां उज्मा को रोक लिया गया। उनके तीन मोबाइल फोन भी जब्त कर लिए गए।


- उज्मा का आरोप है कि ताहिर शादीशुदा और चार बच्चों का पिता है। उज्मा के मुताबिक- वो रिश्तेदारों से मिलने पाकिस्तान आई थी। यहां ताहिर ने बंदूक की नोंक पर उससे निकाह किया और सेक्शुअल रिलेशन बनाए। उज्मा ने फिजिकल टॉर्चर के आरोप भी ताहिर पर लगाए।


- उज्मा ने इस बारे में एफआईआर भी दर्ज कराई है। ताहिर, पूछताछ के लिए पेश नहीं हुआ था। उसने सीधे कोर्ट में अपील की।


- 11 मई तक उज्मा इंडियन हाई कमीशन में मौजूद थी। कमीशन ने एक बयान में कहा कि उज्मा खुश है और उसकी सेहत भी अब बेहतर है।


- नवाज शरीफ के फॉरेन अफेयर्स एडवाइजर सरताज अजीज ने गुरुवार को कहा कि कानूनी कार्रवाई पूरी होते ही उज्मा को भारत भेज दिया जाएगा।