डब्लूईएफ में भारत ने लगाई छलांग, 99 देशों से निकला आगे- पाक सबसे पीछे

नई दिल्ली (29 सितंबर): वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्लूईएफ) के ग्लोबल कॉम्पिटिटिवनेस इंडेक्स में भारत की रैंकिंग में जबरदस्त सुधार हुआ है। सरकार के अहम कदमों की वजह से दुनिया की कॉम्पिटेटिव इकोनॉमी में भारत की रैंकिंग में 16 पायदान का उछाल आया है। इस सुधार के साथ भारत अब 138 देशों में 39वें पायदान पर पहुंच गया है। ब्रिक्स देशों की दृष्टि से देखा जाये तो भारत डब्लूईएफ के इंडेक्स में सिर्फ चीन से पीछे है। भारत 99 देशों से आगे निकल गया है जबकि पाकिस्तान साउथ एशिया में सबसे पीछे है। 

- रैकिंग में सुधार के साथ भारत पाकिस्तान समेत 99 देशों से आगे निकल गया है। पाकिस्तान इस लिस्ट में 122वें नंबर पर है और साउथ एशिया में सबसे पिछड़ा हुआ है।

- ग्लोबल कॉम्पिटिटिव इंडेक्स में पाकिस्तान 3.5 अंकों के साथ 122वें नंबर पर है। वह बांग्लादेश, नेपाल, भूटान, श्रीलंका से भी काफी पीछे हैं। यानी साउथ एशिया में सबसे आखिरी पायदान पर।

- इसी लिस्ट में भारत पिछले साल 55वें नंबर पर था। रैंकिंग में उछाल की वजह से भारत कॉम्पिटिशन के नजरिए से ब्रिक्स देशों में दूसरे नंबर पर आ गया है, जबकि चीन पहले नंबर पर है।

- रिपोर्ट के मुताबिक इस साल भारत की ग्रोथ चीन से ज्यादा रहेगी। भारत बड़े क्षेत्रों में सुधार, ट्रांसपेरेंसी के साथ तेजी से बढ़ती इकोनॉमी है।

- वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने 138 देशों की इकोनॉमी को ध्यान में रखकर ग्लोबल कॉम्पटिटिवनेस इंडेक्स बनाया है। दुनिया की सबसे कॉम्पटिटिव इकोनॉमी में स्विट्जरलैंड पहले पायदान पर है। इसके बाद सिंगापुर और तीसरे नंबर पर अमेरिका है।