डोकलाम से चीन ने सेना पीछे हटाने से किया इंकार

बीजिंग (11 अगस्त): डोकलाम विवाद को लेकर भारत और चीन के बीच चल रही तनातनी कम होने की बजाय बढ़ती जा रही है। अब चीन के विदेश मंत्रालय का बड़ा बयान आया है। चीन ने साफ कर दिया है कि डोकलाम विवाद को सुलझाने के लिए वो अपनी सेना को पीछे नहीं हटाएगा।

इस मामले में चीन के विदेश मंत्रालय ने उन खबरों का खंडन किया है, जिसमे डोकलाम से सेना वापस बुलाने की बात कही गई थी। पहले खबर आई थी कि भारत ने 250 मीटर सेना पीछे हटाने की बता कही थी और चीन 100 मीटर पीछे हटने को तैयार हो गया था, लेकिन अब चीन ने इन खबरों का खंडन कर दिया है।

ये पहली बार नहीं है चीन डोकलाम पर अपनी सेना की तैनाती पर अड़ियल रवैया रखे हुए है। चीन इससे आगे जाकर लगातार भारत को युद्ध की धमकी देता जा रहा है। हाल में चीन के सरकारी अखबार ने ऐलान कर दिया कि अब भारत से युद्ध का काउंटडाउन शुरू हो चुका है। चीन के अखबार ने ये दावा यूं ही नहीं किया, दरअसल चीन डोकलाम इलाके में लगातार अपनी सेना बढ़ा रहा है और वहां गोला बारूद इकट्ठा कर रहा है।

चीन कभी जंग की धमकी देता है तो कभी कहता है कि भारत के दूसरे हिस्सों में घुसपैठ की, लेकिन भारत उसकी धमकियों से डर नहीं रहा है। हमारी सेना डोकलाम में सीना ताने खड़ी हैं। इस बात से चीन बुरी तरह से बौखलाया हुआ है। उसे सूझ नहीं रहा है कि आखिर भारत से कैसे निपटें। वो समझ नहीं पा रहा है कि आखिर डोकलाम में भारत को पीछे कैसे हटाया जाए, इसलिए वो धमकियों का सहारा ले रहा है।