सफर करना होगा आसान, भारतीय एयरलाइंस में 900 विमान होंगे शामिल

नई दिल्ली (26 दिसंबर ): आने वाले वर्षों में भारतीय एयरलाइंस की 900 से अधिक विमानों को अपने बेड़े में शामिल करने की तैयारी है। इन विमानो में इंडिगो अकेले ही 448 विमान अपने बेड़े में लाएगी। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक भारत सबसे तेजी से बढ़ते उड्डयन बाजारों में से एक है। 

नागरिक उड्डयन मंत्रालय द्वारा उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, एयरलाइंस इंडिगो, स्पाइसजेट, गो एयर और एयर एशिया अपने आप को और विस्तार करने के लिए तैयार कर रहे हैं। आने वाले सात सालों में इंडिगो 399 A320s and 49 ATRs के साथ 448 विमान और लाने की तैयारी कर रहा है। फिलहाल इंडिगो के पास अभी कुल 158 प्लेन हैं।

प्रतियोगी स्पाइसजेट भी विस्तार की प्रक्रिया में है। अभी उसके बेड़े में 57 एयरक्राफ्ट हैं। स्पाइसजेट 2018 से 2023 तक 107 B737-800s व 50 Bombardier Q400s लाने की तैयारी में है। गो एयर एयरलाइन आने वाले समय में 119 A320 शामिल करेगा। फिलहाल अभी गो एयर के पास 34 प्लेन का बेड़ा है।

हाल ही में संसद में पेश किए गए डेटा के अनुसार एयर एशिया अगले पांच वर्षों में 60 विमानों को शामिल करेगा। जेट एयरवेज अपने बेड़े में 81 B737-8 MAX प्लेन शामिल करेगा।  विनिवेश से जुड़ी एयर इंडिया वर्ष 2019 में मार्च से दिसंबर के बीच 300ER और 16 A320 अपने बेड़े में शामिल करेगा। अभी एयरइंडिया के बेड़े में 155 एयरक्राफ्ट मौजूद हैं। इसी के साथ विस्तारा अपने बेड़े का विस्तार करेगी और उसमें 17 प्लेन शामिल करेगी।