न्यू यॉर्क के हमलावर को पकड़वाने के लिए भारतीय मूल के हरिंदर बने हीरो

नई दिल्ली (21 सितंबर): न्यूयॉर्क एवं न्यूजर्सी के हमलावर को पकड़ने में मददगार भारतीय मूल के हरिंदर अमेरिका के हीरो बन गये हैं। लिंडन में एक बार के मालिक हरिंदर बैंस ने देखा कि एक संदिग्ध बार के दरवाजे पर सोता हुआ दिखा। बैंस को पहले लगा कि कोई शराबी व्यक्ति आराम कर रहा है लेकिन बाद में उन्होंने अहमद खान रहमी को पहचान लिया और पुलिस को बुलाया।

हरिंदर ने कहा, मैं केवल एक आम नागरिक हूं। मैंने वही किया जो हर नागरिक को करना चाहिए। असली नायक पुलिसकर्मी हैं, असली नायक कानून प्रवर्तन है। अधिकारी जब अहमद खान को पकड़ने आए तो उसने बंदूक निकाल ली और गोलियां चलानी शुरू कर दीं। एक गोली एक अधिकारी के सीने में भी लगी। भारतीय अमेरिकी अटॉर्नी रवि बत्रा ने कहा कि हरिंदर का कदम का बहादुरी एवं साहस भरा कदम है। उन्होंने वीरता दिखाते हुए कई निर्दोष लोगों की जान की रक्षा करने में मदद की और कानून प्रवर्तन अधिकारियों को इसका श्रेय दिया