जरुरत पड़ने पर और हमले होंगे पाकिस्तान पर

नई दिल्ली(30 सितंबर): एलओसी पार आतंकी ठिकानों पर सेना की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद गृहमंत्रालय में सर्वदलीय बैठक हुई है। बैठक में गृहमंत्री, DGMO और NSA ने सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में राजनीतिक दलों को ब्रीफ किया। DGMO ने सर्वदलीय बैठक में बताया कि अगर जरूरत पड़ी तो इस तरह के और भी हमले किए जा सकते हैं।

- सभी राजनीतिक दलों ने सेना की इस कार्रवाई की तारीफ की है। बैठक के बाद राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ सरकार और सेना द्वारा उठाए गए किसी भी कदम का हम समर्थन करेंगे। उन्होंने कामयाब ऑपरेशन के लिए सेना को बधाई भी दी। जेडीयू नेता शरद यादव ने कहा कि पूरा देश एकजुट है।

- सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए भारत ने पाकिस्तान को सख्त संदेश दिया है कि वह अपनी जमीन का भारत के खिलाफ गतिविधियों में इस्तेमाल रोके। दूसरी तरफ विदेश मंत्रालय ने सुरक्षा परिषद के 5 स्थायी सदस्य देशों के साथ-साथ करीब 22 देशों के राजनयिकों को भारत के पक्ष से अवगत कराया है।

- गौरतलब है कि भारतीय सेना ने बुधवार देर रात लाइन ऑफ कंट्रोल के नजदीक आतंकियों के 7 ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की, जिसमें करीब 40 आतंकी मारे गए।