दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में से एक है INDIAN ARMY

 

नई दिल्ली (15 जनवरी): भारतीय सेना दुनिया में अपना अलग मुकाम रखती है। बहुत सी ऐसी खूबियां हैं जो दुनिय किसी दूसरी सेना के पास नहीं हैं। आइए जानतें हैं इंडियन आर्मी की कुछ खास खूबियां:

1. भारतीय सेना दुनिया में सबसे ऊंचे युद्ध के मैदान को नियंत्रित करती है। भारतीय सेना दुनिया की सबसे ऊंची पहाड़ियों को कन्ट्रोल करने में माहिर है। भारतीय सेना ने समुद्र तल से 5000 मीटर ऊपर सियाचिन में तैनात है। यहां से वो पाकिस्तान की नापाक हरकतों पर नजर रखती है।

2. दुनिया में भारत के पास सबसे बड़ी 'स्वैच्छिक' सेना है। सभी सेवारत और रिजर्व कर्मियों ने वास्तव में 'सेवा' को चुना है। भारतीय संविधान में जबरन भर्ती का प्रावधान है लेकिन आज तक इसका प्रयोग नहीं किया गया है।

3. भारतीय सेना पहाड़ी लड़ाइयों में माहिर है। भारतीय सेना का हाई ऑल्टीट्यूड वॉरफेयर स्कूल दुनिया के सबसे अच्छे ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट में गिना जाता है। अफगानिस्तान भेजे जाने से पहले अमेरिका के स्पेशल फोर्स की ट्रेनिंग भी इसी इंस्टीट्यूट में हुई थी। साथ ही यूके और रशिया से भी जवान यहां ट्रेनिंग के लिए आते हैं। इस इंस्टीट्यूट में पहाड़ी इलाकों और ऊंचाई पर लड़ाई करने के ट्रेनिंग दी जाती है।

4. भारत सेना का अपने परमाणु शस्त्रों  का दो बार परीक्षण  किया है। 1970 और 1990 के दशक में भारत ने दुनिया भर की खुफिया एजेंसियों को धता बताते हुए अपने परमाणु शस्त्रागार का परीक्षण किया था और  सीआईए को इसकी भनक तक नहीं थी। आज तक इसे सीआईए की सबसे बड़ी विफलताओं में से एक माना जाता है।

5. भारत की अन्य सरकारी संगठनों और संस्थाओं की तरह, जाति या धर्म के आधार पर आरक्षण के लिए कोई प्रावधान नहीं हैं। सैनिकों की भर्ती उनके समग्र योग्यता, कड़े परीक्षण और फिटनेस के आधार पर होती है। कोई भी भारतीय नागरिक अगर एक बार सेना में भर्ती हो जाता है, तो वो सैनिक कहलाता है।  

6. पाकिस्तान से लोंगेवाला युद्ध के दौरान, भारत की ओर से केवल दो हताहत थे। बाद में इस पर बॉलीवुड फिल्म बॉर्डर बनाई गई थी। लोंगेवाला युद्ध भारत-पाकिस्तान के बीच दिसंबर 1971 में लड़ा गया था। जिसमें एक जीप और रिकॉयललेस राइफल के साथ सिर्फ 120 भारतीय सैनिकों ने 45 टैंक और एक मोबाइल इन्फैंट्री ब्रिगेड से लैस 2000 पाकिस्तानी सैनिक के खिलाफ जंग लड़ी। संख्या में कम होने के बावजूद भारतीय सैनिकों, वायु सेना की मदद से रात भर लड़े और जीत हासिल करने में कामयाब रहे।

7. 2013 का 'ऑपरेशन राहत' दुनिया में सबसे बड़ा नागरिक बचाव कार्य में से एक था। भारतीय वायु सेना ने 'ऑपरेशन राहत' 2013 में उत्तराखंड में आई बाढ़ से प्रभावित नागरिकों को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए शुरू किया था। वायु सेना द्वारा किया गया ये ऑपरेशन अब तक का दुनिया का सबसे बड़ा नागरिक बचाव अभियान था। पहले फेज़ में भारतीय वायु सेना ने करीब 20 हजार लोगों को सुरक्षित निकाला था। 

8. केरल में एझिमाला नौसेना अकादमी एशिया में अपनी तरह की सबसे बड़ी अकादमी है।

9. भारतीय सेना में  कैवलरी हॉर्स रेजिमेंट भी है। दुनिया में ये आखिरी तीन ऐसे रेजिमेंट्स में से एक है।

10. भारतीय वायु सेना का ताजिकिस्तान में एक आउट-स्टेशन बेस है और अब अफगानिस्तान में भी ऐसा ही स्टेशन बनाया जा रहा है।

indi