क्वाड शिखर सम्मेलन से पहले पीएम मोदी ने जारी किया ये अहम बयान, जानें क्या कहा

जापान की अपनी निर्धारित यात्रा से पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि क्वाड शिखर सम्मेलन के दौरान, नेताओं को एक बार फिर आपसी हित के विभिन्न पहलों और मुद्दों पर चर्चा करने का अवसर मिलेगा।

क्वाड शिखर सम्मेलन से पहले पीएम मोदी ने जारी किया ये अहम बयान, जानें क्या कहा
x

नई दिल्ली: जापान की अपनी निर्धारित यात्रा से पहले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि क्वाड शिखर सम्मेलन के दौरान, नेताओं को एक बार फिर आपसी हित के विभिन्न पहलों और मुद्दों पर चर्चा करने का अवसर मिलेगा।


पीएम ने कहा, "आज शाम, मैं दूसरे इन-पर्सन क्वाड समिट में भाग लेने के लिए जापान के लिए रवाना हो रहा हूं। नेताओं को एक बार फिर से विभिन्न क्वाड पहलों और आपसी हित के अन्य मुद्दों पर चर्चा करने का अवसर मिलेगा।"




और पढ़िए – टोक्यो पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी का प्रवासी भारतीयों ने किया जोरदार स्वागत





उन्होंने कहा कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति जोसेफ बाइडेन के साथ द्विपक्षीय बैठक भी करेंगे। उन्होंने कहा कि दोनों देश बहुआयामी द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे।


पीएम ने कहा, "हम क्षेत्रीय विकास और समसामयिक वैश्विक मुद्दों पर भी अपनी बातचीत जारी रखेंगे।"




बता दें कि मार्च 2022 में, जापान के प्रधान मंत्री फुमियो किशिदा 14वें भारत-जापान वार्षिक शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए भारत आए थे। शिखर सम्मेलन के दौरान, पीएम मोदी और जापान के उनके समकक्ष ने घोषणा की कि जापान अगले पांच वर्षों में भारत में 5 ट्रिलियन येन (यूएसडी 42 बिलियन) का निवेश करेगा।


इसके बारे में बोलते हुए, पीएम ने कहा, "मैं भारत-जापान विशेष रणनीतिक और वैश्विक साझेदारी को मजबूत करने के उद्देश्य से अपनी बातचीत को आगे जारी रखने के लिए उत्सुक हूं।" उन्होंने यह भी कहा कि वह दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को मजबूत करने के लिए जापानी व्यापार जगत के नेताओं से मिलने की उम्मीद कर रहे हैं।


पीएम ने आगे कहा कि शिखर सम्मेलन के दौरान, वह नव-निर्वाचित ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री एंथनी अल्बनीज से मिलेंगे, जो पहली बार क्वाड लीडर्स समिट में शामिल होंगे।


दोनों के आपसी हित के मामलों पर चर्चा के लिए द्विपक्षीय बैठक करने की उम्मीद है।


मोदी ने कहा, "मैं उनके साथ एक द्विपक्षीय बैठक को लेकर आशान्वित हूं, जिसमें व्यापक रणनीतिक साझेदारी के तहत भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बहुआयामी सहयोग और आपसी हित के क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा की जाएगी।"


उन्होंने कहा, "जापान भारतीय प्रवासियों के लगभग 40,000 सदस्यों का घर है, जो जापान के साथ हमारे संबंधों में एक महत्वपूर्ण पड़ाव है। मैं उनके साथ बातचीत करने के लिए उत्सुक हूं।"






और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story