'15 दिनों में अवैध निर्माण गिराए, नहीं तो चलेगा हमारा हथौड़ा', बीएमसी का राणा दंपति को नोटिस

बीएमसी ने राणा को अगले 15 दिन में अवैध निर्माण गिरने का नोटिस थमा दिया। राणा दंपत्ति अगर अपने फ्लैट में किए गए अवैध निर्माण को नहीं गिराती तो बीएमसी गिराएगी और इस कार्रवाई में जो खर्च होगा वो परिवार से ही वसूला जाएगा।

15 दिनों में अवैध निर्माण गिराए, नहीं तो चलेगा हमारा हथौड़ा, बीएमसी का राणा दंपति को नोटिस
x

मुंबई: राणा दंपत्ति को दिए 7 दिनों के कारण बताओ नोटिस की मियाद खत्म होने के बाद फिर से एक बार मुंबई महानगरपालिका ने नोटिस जारी कर राणा परिवार को 15 दिन की मौहलत देते हुए उनके घर में किए गए अवैध निर्माण को गिराने के लिए कहा है। चेतावनी देते हुए कहा गया है कि अगर यह अवैध निर्माण खुद से राणा दंपति नहीं गिराती है तो बीएमसी खुद अपना हथौड़ा चलाएगी।




और पढ़िए – कथित फर्जी मुठभेड़ में आदिवासी लड़की की हत्या के आरोप में दो पुलिसकर्मी बरी




मातोश्री के बाहर आकर हनुमान चालिसा पढ़ने की चेतावनी देने वाली सांसद नवनीत और उनके पति रवी राणा ने सीधे सीधे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे समेत शिवसेना को चुनौती दी। पूरे 2 दिन मुंबई का माहौल गर्म रहा। राणा दंपति पर मामला भी दर्ज हुआ। जिसके बाद बीएमसी ने राणा दंपति को उनके घर में हुए अवैध निर्माण की जांच के लिए नोटिस भेजा। बीएमसी की टीम ने खार स्थित राणा के फ्लैट पर जाकर जांच भी की और उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया।


राणा दंपति को बीएमसी द्वारा मिली कारण बताओ नोटिस का जवाब देने के लिए 7 दिन का समय दिया गया। राणा ने 7 दिन के भीतर इस नोटिस का जवाब भी दिया लेकिन बीएमसी को राणा दंपति के द्वारा दी गयी दलीलें रास नहीं आई और बीएमसी ने राणा को अगले 15 दिन में अवैध निर्माण गिरने का नोटिस थमा दिया। राणा दंपत्ति अगर अपने फ्लैट में किए गए अवैध निर्माण को नहीं गिराती तो बीएमसी गिराएगी और इस कार्रवाई में जो खर्च होगा वो परिवार से ही वसूला जाएगा।





और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story