हार्दिक पटेल का पुराना ट्वीट वायरल, कहा था- 'मरते दम तक कांग्रेस में रहूंगा'

हार्दिक पटेल ने अपना इस्तीफा ट्विटर पर साझा किया जिसमें उन्होंने कांग्रेस छोड़ने के फैसले के पीछे का कारण बताया। पत्र में उन्होंने कहा कि कांग्रेस को सही दिशा में ले जाने के कई प्रयासों के बावजूद, 'पार्टी लगातार देश और समाज के हितों के खिलाफ काम कर रही है।'

हार्दिक पटेल का पुराना ट्वीट वायरल, कहा था- मरते दम तक कांग्रेस में रहूंगा
x

नई दिल्ली: कांग्रेस के सभी पदों से बुधवार को इस्तीफा देने वाले पाटीदार नेता हार्दिक पटेल अपने एक पुराने ट्वीट को लेकर ट्रोल हो रहे हैं। गुजरात के कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले हार्दिक ने एक बार ट्वीट कर कहा था कि वह कांग्रेस को कभी नहीं छोड़ेंगे। इस्तीफा देते ही युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी ने पुराने ट्वीट का स्क्रीनशॉट ट्वीट किया। ट्वीट में लिखा था, 'हार-जीत के कारण पाले व्यापारी बदलते हैं, विचारधाना के अनुयायी नहीं। लडूंगा, जीतूंगा और मरते दम कर कांग्रेस में रहूंगा।' बता दें कि आज हार्दिक पटेल ने कांग्रेस में प्राथमिक सदस्यता समेत पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था।



हार्दिक पटेल ने अपना इस्तीफा ट्विटर पर साझा किया जिसमें उन्होंने कांग्रेस छोड़ने के फैसले के पीछे का कारण बताया। पत्र में उन्होंने कहा कि कांग्रेस को सही दिशा में ले जाने के कई प्रयासों के बावजूद, 'पार्टी लगातार देश और समाज के हितों के खिलाफ काम कर रही है।'


पाटीदार नेता ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेतृत्व पर गंभीरता की कमी का भी आरोप लगाया। वे बोले, 'जब भी मैं वरिष्ठ नेतृत्व से मिला, मैंने हमेशा महसूस किया कि नेता वास्तव में गुजरात के लोगों से संबंधित समस्याओं के बारे में सुनने में दिलचस्पी नहीं रखते थे, बल्कि अपने मोबाइल पर प्राप्त संदेशों में अधिक लगे हुए थे ...'


पार्टी की कार्य संस्कृति पर तंज कसते हुए हार्दिक पटेल ने कहा, 'गुजरात में कांग्रेस के बड़े नेता राज्य के मुद्दों से कोसों दूर हैं, लेकिन यह सुनिश्चित करने पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं कि दिल्ली से आए नेताओं को चिकन सैंडविच समय पर दिया जाए।'


रिपोर्ट्स के मुताबिक, हार्दिक पटेल ने हाल ही में उदयपुर में हुए कांग्रेस के चिंतन शिविर में हिस्सा नहीं लिया था। हार्दिक ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजे गए अपने इस्तीफे का एक स्नैपशॉट भी साझा किया।


Next Story