Gyanvapi Masjid: ज्ञानवापी केस में नई याचिका दायर, अब फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई

एक और याचिका डाली गई है, जिसमें हिंदू पक्ष की ओर से ज्ञानवापी परिसर हिंदुओं को सौंपने, मस्जिद में मुस्लिमों के प्रवेश पर रोक और शिवलिंग के पूजा-दर्शन की अनुमति देने की मांग की गई है।

Gyanvapi Masjid: ज्ञानवापी केस में नई याचिका दायर, अब फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई
x

वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में ज्ञानवापी मामले को लेकर बुधवार को एक बार फिर से सुनवाई हुई। इस बार एक महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है। सिविल कोर्ट सिनियर डिविजन के जज रवि दिवाकर ने मामले की सुनवाई करते हुए इसे फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रांसफर करने का फैसला लिया है। इस मामले की सुनवाई अब 30 मई को फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी। वहीं, एक और याचिका डाली गई है, जिसमें हिंदू पक्ष की ओर से ज्ञानवापी परिसर हिंदुओं को सौंपने, मस्जिद में मुस्लिमों के प्रवेश पर रोक और शिवलिंग के पूजा-दर्शन की अनुमति देने की मांग की गई है। जानकारी के मुताबिक फास्ट ट्रैक कोर्ट के जज महेंद्र पांडेय मामले की सुनवाई करेंगे। 


मिली जानकारी के अनुसार, मूल मामले को छोड़कर अलग-अलग दायर हुई नई याचिकाओं की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी। मामले पर बात करते हुए हिंदू पक्ष के वकील शिवम गौड़ ने बताया कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में फाइल ट्रांसफर हो चुकी है। हम कोर्ट में जा रहे हैं और इस मामले की तत्काल पूजा की मांग करेंगे। इस मामले में आपत्ति का कोई मतलब ही नहीं है। हम चाहते हैं कि आज ही सुनवाई हो और कल से पूजा का आदेश जारी किया जाए। 


सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को मामलों की जटिलता को देखते हुए ज्ञानवापी मस्जिद मामले को सिविल जज रवि कुमार दिवाकर से जिला जज वाराणसी को ट्रांसफर करने का आदेश दिया था। कहा था कि जिला जज ही 4 से 6 हफ्तों में किसी निर्णय पर पहुंचे।

Next Story