Deoghar Ropeway Accident: जवानों से प्रधानमंत्री ने की बात, बोले- देश को गर्व, दुनिया ने देखी आपकी काबिलियत

Deoghar Roapway Accident: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार शाम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देवघर में बचाव कार्यों में शामिल लोगों के बात की और उनके साहसिक कार्य की प्रशंसा की।

Deoghar Ropeway Accident: जवानों से प्रधानमंत्री ने की बात, बोले- देश को गर्व, दुनिया ने देखी आपकी काबिलियत
x

Deoghar Roapway Accident:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार शाम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देवघर में बचाव कार्यों में शामिल भारतीय वायुसेना के कर्मियों, भारतीय सेना, एनडीआरएफ, आईटीबीपी, स्थानीय प्रशासन और नागरिक समाज के कर्मियों के साथ बात की। पीएम मोदी ने उनके साहस की सराहना की और अभियान के दौरान किस तरह से लोगों को बचाया गया इसकी जानकारी भी उनसे जानी। 


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आपने तीन दिनों तक 24 घंटे लगकर एक मुश्किल रेस्क्यू आपरेशन को पूरा किया और अनेक देशवासियों की आपने जान बचाई है। उन्होंने कहा कि पूरे देश ने आपके साहस को सराहा है। मैं इसे बाबा बैद्यनाथ जी की कृपा मानता हूं। हालांकि हमें दुख है कि कुछ साथियों का जीवन हम नहीं बचा पाएं, अनेक साथी घायल भी हुए हैं। पीड़ित परिवारों के साथ हम सभी की पूरी संवेदना है। मैं सभी घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।


देश को गर्व है कि उसके पास हमारी थल सेना, वायु सेना, NDRF, ITBP के जवान और पुलिस बल के रूप में ऐसी कुशल फोर्स है जो देशवासियों को हर संकट से सुरक्षित बाहर निकालने का माद्दा रखती है। हालांकि हमें दुख है कि 3 साथियों का जीवन हम नहीं बचा पाए। अनेक साथी घायल भी हुए हैं। पीड़ित परिवारों के साथ हम सभी की पूरी संवेदना है। मैं सभी घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।  


 

उन्होंने कहा कि वायुसेना ने अद्भुत कौशल दिखाया है। वायुसेना के जवानों ने अपनी जान जोखिम में डालकर दूसरों की जान बचाई है। मैं एयरफोर्स के साथियों की प्रशंसा करता हूं। एनडीआरएफ के जवानों ने देश में अपनी एक खास पहचान बनाई है। यह पहचान जवानों ने अपने पराक्रम से बनाई है। आप सभी ने इस अभियान के दौरान जिस धैर्य का परिचय दिया है वह प्रशंसनीय है। इस तरह के हादसे फिर से नहीं हो यह बेहद जरूरी है। 





और पढ़िए – छिपकली के साथ रेप! महाराष्ट्र के सह्यादारी टाइगर रिजर्व में बंगाल मॉनिटर छिपकली से गैंगरेप, चार गिरफ्तार


 

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि कि पहले दिन शाम को यह खबर आई कि हेलिकॉप्टर ले जाना कठिन है। यह चिंता का विषय था। जिस कोऑर्डिनेशन के साथ आपलोगों ने काम किया यह काफी मायने रखता है। आपकी तेजी ही ऐसे मामलों में सफलता और असफलता तय करती है। मुश्किल से मुश्किल चुनौती के सामने अगर हम धैर्य के साथ काम करते हैं तो सफलता मिलती ही है। आप सभी ने इस रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान जिस धैर्य का परिचय दिया वो अतुलनीय है।


साथ ही उन्होंने कहा कि वर्दी पर लोगों की बहुत आस्था होती है। संकट में फंसे लोग जब भी आपको देखते हैं तो उनको विश्वास हो जाता है कि उनकी जान अब सुरक्षित है। उनमें नई उम्मीद जाग जाती है। इस आपदा ने एक बार फिर ये स्पष्ट कर दिया कि जब भी देश में कोई संकट होता है तो हम सब मिलकर एक साथ उस संकट से मोर्चा लेते हैं और उस संकट से निकलकर दिखाते हैं। सबके प्रयास ने इस आपदा में भी बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। 








और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें









Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story