कर्नाटक के मंत्री ईश्वरप्पा पर भ्रष्‍टाचार का आरोप लगाकर ठेकेदार ने की खुदकुशी

कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले ठेकेदार संतोष पाटिल मंगलवार को उडुपी के एक लॉज में मृत पाए गए। संतोष पाटिल के भाई प्रशांत पाटिल ने अपने भाई की मौत के लिए ईश्वरप्पा को जिम्मेदार ठहराया है।

कर्नाटक के मंत्री ईश्वरप्पा पर भ्रष्‍टाचार का आरोप लगाकर ठेकेदार ने की खुदकुशी
x

नई दिल्ली: कर्नाटक के मंत्री केएस ईश्वरप्पा पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले ठेकेदार संतोष पाटिल मंगलवार को उडुपी के एक लॉज में मृत पाए गए। संतोष पाटिल के भाई प्रशांत पाटिल ने अपने भाई की मौत के लिए ईश्वरप्पा को जिम्मेदार ठहराया है।


प्रशांत पाटिल ने कहा, "मेरे भाई की मौत के लिए ईश्वरप्पा जिम्मेदार हैं। उन्होंने [ठेकेदार संतोष पाटिल से] रिश्वत या कमीशन मांगा। इसके बाद उन्होंने मानहानि का मुकदमा दायर किया। पाटिल को धमकी भी मिली थी।"


अपनी मृत्यु से पहले, संतोष पाटिल ने कथित तौर पर अपने दोस्तों को एक व्हाट्सएप संदेश भेजा, जिसमें उन्होंने अपनी जान लेने का इरादा बताया और ईश्वरप्पा को इसके लिए दोषी ठहराया। पुलिस फोरेंसिक के जरिए सुसाइड नोट की सत्यता की पुष्टि कर रही है।






और पढ़िए – यूपी में देसी कट्टे के साथ टीचर गिरफ्तार




पुलिस के मुताबिक, संतोष ने अपनी पत्नी को बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ पिकनिक पर जा रहा है और 11 अप्रैल को बेलगाम से निकला था। इसके बाद वह लापता हो गया।


मंगलवार को उनका शव उडुपी में मृत पाया गया। उसके दो दोस्त एक ही बिल्डिंग में थे, लेकिन दूसरे कमरे में। पुलिस उनके बयान दर्ज करेगी।


कुछ हफ्ते पहले पाटिल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि ईश्वरप्पा ने बकाया बिलों का भुगतान नहीं किया है। उन्होंने भाजपा नेता पर झूठ, भ्रष्टाचार और अनियमितताओं का आरोप लगाया और पीएम मोदी से ईश्वरप्पा को अपने बिलों को निपटाने का निर्देश देने का आग्रह किया।


ईश्वरप्पा ने तब आरोपों से इनकार किया और पाटिल के खिलाफ 'निराधार' आरोप लगाने के लिए मानहानि का मामला दर्ज करके जवाबी कार्रवाई की।









और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें










Click Here- News 24 APP अभी download करें

Next Story