केंद्र ने सुरक्षा कारणों के चलते मलयालम टीवी समाचार चैनल MediaOne पर लगाई रोक, जानें- पूरा मामला

सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आ सका है। मंत्रालय के वरिष्ठ सूत्रों ने कहा कि इसे इसलिए बंद करने का आदेश आया, क्योंकि चैनल ने सुरक्षा मंजूरी को पूरा नहीं किया था।

केंद्र ने सुरक्षा कारणों के चलते मलयालम टीवी समाचार चैनल MediaOne पर लगाई रोक, जानें- पूरा मामला
x


जमात-ए-इस्लामी के समर्थन वाले मलयालम भाषा के प्रमुख समाचार चैनल Mediaone TV के प्रसारण पर केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए रोक लगा दी है। बताया गया कि चैनल सोमवार दोपहर को बंद हो गया था। मीडिया वन टीवी के संपादक प्रमोद रमन ने एक बयान में कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने चैनल के प्रसारण पर प्रतिबंध लगा दिया है। बयान में कहा, 'मंत्रालय ने कहा है कि प्रतिबंध सुरक्षा कारणों से लगाया गया, लेकिन चैनल को अभी तक इस पर ब्योरा नहीं मिला है। केंद्र सरकार ने Mediaone TV पर प्रतिबंध के बारे में विवरण उपलब्ध नहीं कराया है। हमने प्रतिबंध के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी है। प्रक्रिया पूरी करने के बाद, चैनल दर्शकों से दोबारा जुड़ेगा। हम इस उम्मीद के साथ प्रसारण को अस्थायी रूप से निलंबित कर रहे हैं कि अंत में न्याय होगा।'



और पढ़िए – चुनाव आयोग ने 11 फरवरी तक शारीरिक रैलियों पर बढ़ाया प्रतिबंध



चैनल के सूत्रों ने बताया कि टीवी चैनल के लाइसेंस की अवधि समाप्त नहीं हुई है लेकिन जब प्रतिबंध आया तब चैनल के लाइसेंस के नवीनीकरण की प्रक्रिया भी जारी थी। हालांकि सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आ सका है। मंत्रालय के वरिष्ठ सूत्रों ने कहा कि इसे इसलिए बंद करने का आदेश आया, क्योंकि चैनल ने सुरक्षा मंजूरी को पूरा नहीं किया था।


एक अधिकारी ने बताया कि समाचार श्रेणी में एक निजी उपग्रह टीवी चैनल के रूप में अपने लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए चैनल की "सुरक्षा मंजूरी से इनकार कर दिया गया था", जो मौजूदा नीति के अनुसार 10 साल की अवधि के लिए दिया जाता है। वहीं, केरल में विपक्ष के नेता वीडी सतीसन ने कहा कि चैनल को रोकना मीडिया की स्वतंत्रता में हस्तक्षेप करने जैसा है।


और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

 

Next Story