असम बाढ़: मरने वालों की संख्या बढ़कर 54 हुई, 18 लाख से अधिक लोग प्रभावित

असम और उसके पड़ोसी राज्यों में बाढ़ से स्थिति और खराब हो गई है, क्योंकि राज्य में शुक्रवार को नौ और लोगों की मौत हो गई। असम में पिछले दो दिनों में बाढ़ से कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई है।

असम बाढ़: मरने वालों की संख्या बढ़कर 54 हुई, 18 लाख से अधिक लोग प्रभावित
x

गुवाहाटी: असम और उसके पड़ोसी राज्यों में बाढ़ से स्थिति और खराब हो गई है, क्योंकि राज्य में शुक्रवार को नौ और लोगों की मौत हो गई। असम में पिछले दो दिनों में बाढ़ से कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के मुताबिक, इस साल राज्य में अब तक बाढ़ और भूस्खलन में 54 लोगों की मौत हो चुकी है। असम के 28 जिलों में बाढ़ से 18 लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं।


होजई, नलबाड़ी, बजली, धुबरी, कामरूप, कोकराझार और सोनितपुर जिलों से मौतों की सूचना मिली थी। राज्य के 2,900 से अधिक गांव कथित तौर पर जलमग्न हैं। इस बीच 43338.39 हेक्टेयर फसल भूमि बाढ़ के पानी में डूब गई है।





और पढ़िए –दिल्ली के लिए येलो अलर्ट, मौसम विभाग ने इन राज्यों में दी भारी बारिश की चेतावनी




असम के कई इलाकों में बेकी, मानस, पगलादिया, पुथिमारी, जिया भराली, कोपिली और ब्रह्मपुत्र नदियों का जलस्तर खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है। असम में एक लाख से ज्यादा लोग 373 राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। गुवाहाटी में भी भूस्खलन की खबर है।


बाजाली राज्य में बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित जिला है, क्योंकि अब तक लगभग 3.50 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, इसके बाद दरांग और गोलपारा हैं। कथित तौर पर, कामरूप जिले में बाढ़ की स्थिति बिगड़ गई, क्योंकि बाढ़ का पानी नए क्षेत्रों में प्रवेश कर गया। क्षेत्र में करीब 70,000 लोग प्रभावित हुए हैं।


मेघालय में बाढ़ की स्थिति और भी खराब हो गई है, क्योंकि राज्य में पिछले 24 घंटों में बाढ़ के कारण 18 लोगों की मौत हो गई है। मेघालय सरकार ने राज्य के चार क्षेत्रों को देखने के लिए कैबिनेट मंत्रियों की अध्यक्षता में चार समितियों का गठन किया।








और
 पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story