'अग्निपथ' पर मंथन जारी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ की अहम बैठक

अग्निपथ योजना के खिलाफ कई राज्यों में हो रहे प्रदर्शन के बीच केंद्र सरकार लगातार एक्शन में है। इसी कड़ी केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के घर आज सुबह समीक्षा बैठक बुलाई। जानकारी के मुताबिक इस बैठक में तीन सेवाओं के प्रमुख शामिल रहे।

अग्निपथ पर मंथन जारी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ की अहम बैठक
x

नई दिल्ली: अग्निपथ योजना के खिलाफ कई राज्यों में हो रहे प्रदर्शन के बीच केंद्र सरकार लगातार एक्शन में है। इसी कड़ी केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के घर आज सुबह समीक्षा बैठक बुलाई। जानकारी के मुताबिक इस बैठक में तीन सेवाओं के प्रमुख शामिल रहे। इस दौरान योजना को लागू करने और प्रदर्शनकारियों के मन में आ रही शंकाओं को दूर कर शांत करने पर चर्चा हुई। खास बात है कि राजनाथ सिंह ने दो दिनों के भीतर इस तरह दूसरी बार ऐसी बैठक की।


सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इस बैठक बाद दोपहर दो बजे सेना की ओर बड़ी प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की जा सकती है। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में तीनों सेना ( थल सेना, वायु सेना और नौ सेना) प्रमुख शामिल होंगे।  संभावनाएं जताई जा रही है कि सरकार और सेना आज दोपहर दो बजे होने वाले प्रेस कॉन्फ्रेंस में बड़ा ऐलान कर सकते हैं। 




और पढ़िए – Agneepath protest: एक्शन में सरकार, 35 फेक न्यूज फैलाने वाले WhatsApp ग्रुप बैन, 10 गिरफ्तार






माना जा रहा है कि सरकार अभी इस योजना को अग्निवीरों के लिए और लाभकारी बना सकती है। इसके अलावा उन्हें रिटायर होने पर कहीं समायोजित करने का वादा भी सरकार कर सकती है। 


इससे पहले शनिवार को भी राजनाथ सिंह ने नौसेना और वायुसेना प्रमुखों के साथ बैठक की थी। इस बैठक के बाद राजनाथ सिंह ने ये भी एलान किया था कि अग्निवीरों को रिटायर होने के बाद सेना और उससे जुड़े प्रतिष्ठानों में नौकरी दी जाएगी। उनके लिए 10 फीसदी स्थान रिजर्व करने की जानकारी भी राजनाथ सिंह ने दी थी।

 

इस बीच, आज सुबह ही वायुसेना ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि अग्निवीरों को क्या फायदे होंगे। इसमें वायुसेना ने चार साल के लिए उन्हें मिलने वाली तनख्वाह, रिटायरमेंट पर मिलने वाली सेवानिधि का जिक्र किया है। साथ ही बताया है कि अग्निवीरों को मुफ्त कैंटीन की सुविधा के अलावा हर साल 30 दिन की छुट्टी और नौकरी के दौरान 48 लाख रुपए का बीमा भी मिलेगा। इसके अलावा सेना के बाकी जवानों और अफसरों की तरह वीरता दिखाने पर जो सम्मान दिया जाता है, वो भी उन्हें हासिल होगा।

 








और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें






Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story