महाराष्ट्र के बाद अब यह राज्य भी दे सकता है सुपरमार्केट और दुकानों पर वाइन की बिक्री की अनुमति

कर्नाटक के आबकारी मंत्री के गोपालैया ने कहा कि राज्य सरकार मॉडल का अध्ययन करने के लिए महाराष्ट्र में एक टीम भेजेगी और इसे लागू करने का फैसला करेगी।

महाराष्ट्र के बाद अब यह राज्य भी दे सकता है सुपरमार्केट और दुकानों पर वाइन की बिक्री की अनुमति
x

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के नक्शेकदम पर चलते हुए कर्नाटक सरकार भी सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर में शराब की बिक्री को मंजूरी दे सकती है। कर्नाटक के आबकारी मंत्री के गोपालैया ने कहा कि राज्य सरकार मॉडल का अध्ययन करने के लिए महाराष्ट्र में एक टीम भेजेगी और इसे लागू करने का फैसला करेगी।


गोपालैया ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, "यह नया पेश किया गया है। हम इसका अध्ययन करने के लिए एक समिति भेजेंगे और उनकी रिपोर्ट के आधार पर निर्णय लेंगे।"


मंत्री ने स्पष्ट किया कि यह जरूरी नहीं है कि कर्नाटक सरकार इसे सिर्फ इसलिए अपनाएगी क्योंकि महाराष्ट्र ने किया है। उन्होंने कहा, "हमें यह देखना होगा कि क्या यह सरकार की मदद करता है और यह भी कि यह व्यवसायों को प्रभावित नहीं करता है।"


और पढ़िए -Gold Price Update: सोने की कीमत में बड़ी गिरावट से खरीदार खुश, फटाफट जानें लेटेस्ट गोल्ड रेट्स



महाराष्ट्र की तुलना में, कर्नाटक में कम शराब उत्पादक हैं इसलिए राज्य में अंगूर की शराब का उत्पादन महाराष्ट्र जितना अधिक नहीं है। फेडरेशन ऑफ वाइन मर्चेंट्स ऑफ कर्नाटक के उपाध्यक्ष करुणाकर हेगड़े ने एएनआई को बताया, "महाराष्ट्र में अधिक शराब उत्पादक हैं। कर्नाटक में, अधिकतम 5% शराब व्यापारी हैं। यहां बहुत कम वाइनरी हैं।"


हेगड़े ने यह भी कहा कि शराब की बिक्री ग्रामीण इलाकों के मुकाबले शहरी इलाकों में ज्यादा है। उन्होंने कहा, "अगर कर्नाटक सरकार वही करती है जो महाराष्ट्र कर रहा है, तो वाइन बुटीक की बिक्री में 5-10% की गिरावट हो सकती है। कर्नाटक में, अन्य राज्यों को देखकर व्यापार करने की कोई आवश्यकता नहीं है।"


पिछले हफ्ते महाराष्ट्र ने राज्य भर के सुपरमार्केट और वॉक-इन स्टोर्स में 5,000 रुपये के फ्लैट वार्षिक लाइसेंस शुल्क पर शराब बेचने के प्रस्ताव को मंजूरी दी। राज्य मंत्रिमंडल के अनुसार, निर्णय का उद्देश्य भारतीय वाइनरी के लिए अधिक सुलभ विपणन चैनल सुनिश्चित करना है।



और पढ़िए - बिजनेस से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Next Story