दुश्मन को जवाब जरूर देगा भारत, सेना बताकर कार्रवाई नहीं करती: सेना प्रमुख

नई दिल्ली ( 5 मई ): आर्मी चीफ जनरल विपिन रावत ने पाकिस्तान से दो भारतीय सैनिकों के शवों के साथ दरिंदगी की घटना का बदला लेने के संकेत दिए हैं। उन्होंने साफ किया कि भारतीय सेना योजना को अमली जामा पहनाए जाने से पूर्व उसे उजागर नहीं करती।


एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों ने जनरल रावत से पूछा था कि क्या इस बर्बरतापूर्ण कार्रवाई का सेना जवाब देगी? उन्होंने इसका कोई सीधा जवाब दिए बिना कहा कि सशस्त्र बल पड़ोसी देश की ऐसी कार्रवाइयों का प्रभावी जवाब देते हैं। सेनाध्यक्ष ने कहा, 'भविष्य की योजनाओं के बारे में हम पहले से चर्चा नहीं करते। योजना को कार्यान्वित करने के बाद ही हम उसके बारे में जानकारी साझा करते हैं।' इस बाबत दोबारा पूछे जाने पर जनरल रावत ने कहा, 'जब भी इस तरह की कार्रवाई होती है, तो हम भी जवाबी कार्रवाई करते हैं।' खबरों के मुताबिक सेना पाकिस्तान को जवाब देने के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार कर रही है।


जनरल रावत ने बताया कि इस घटना के बाद जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ रोधी तंत्र को और चौकन्ना कर दिया गया है। थल सेना उपाध्यक्ष सरथ चंद ने भी मंगलवार को कहा था कि सेना इस नृशंस कृत्य का 'अपने तय किए समय और स्थान' पर जवाब देगी।