भारत-अमेरिका समझौते पर चीन ने साधा निशाना, कहा...

नई दिल्ली(18 अप्रैल):  अमेरिका और भारत के बीच हुए साजो सामान विनिमय के समझौते पर हुए हस्ताक्षर पर चीन ने निशाना ने साधा है। भारत के निर्णय को अधिक महत्व नहीं देते हुए चीन की सरकारी मीडिया ने कहा कि दोनों देशों के बीच अविश्वास के कारण प्रस्तावित समझौता रुका हुआ है क्योंकि भारत एक एेसी ‘‘सबसे खूबसूरत महिला’’ बनना चाहता है जिसे सभी खासकर अमेरीका और चीन अपनी आेर लुभाएं ।  

भारत के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने चीनी अधिकारियों के साथ वार्ता के लिए आज चीन की अपनी पहली यात्रा शुरू की है । एेसे में सरकारी समाचार पत्र ग्लोबल टाईम्स ने एक लेख में कहा, ‘‘उनके पारंपरिक अविश्वास के बावजूद भारत अमरीका के गठबंध की अटकलें लगाना महाशक्यिों के बीच झूलने वाले देश की भूमिका निभाने की भारत की महत्वाकांक्षा को स्पष्ट रूप से कम करके आंकना है ।’’ 

एलएसए हस्ताक्षर को रोक रहा भारत-अमेरीका का रणनीतिक अविश्वास’’ शीर्षक से लेख में कहा गया है, ‘‘मूल बात यह है कि भारत सबसे खूबसूत महिला बने रहना चाहता है जिसे सभी पुरूष, खासकर दो सबसे मजबूत देश यानी अमरीका और चीन लुभाएं ।’’  उसने कहा, ‘‘यह भारत के लिए यह कोई नई भूमिका नहीं है । हम अब भी याद कर सकते है कि अपनी कूटनीतिक चतुराई के कारण किस प्रकार उसने शीत युद्ध के दौरान दो प्रतिद्वंद्वी धड़ों के बीच विशेष भूमिका हासिल की थी