टी20 वर्ल्ड कप : रोमांचक मुकाबले में भारत ने बांग्‍लादेश को 1 रन से हराया

बेंगलुरु (23 मार्च): भारत ने टी20 वर्ल्ड कप के अहम मैच में बांग्‍लादेश को 1 रन से हरा दिया। रोमांचक मुकाबले में भारत को मैच की आखिरी गेंद पर विजय मिली। आखिरी ओवर में बांग्लादेश को 11 रन की दरकार थी। आखिरी ओवर हार्दिक पांड्या ने फेंका। बांग्लादेश निर्धारित 20 ओवर मेें 9 विकेट पर 145 रन ही बना सकी। आज कप्तान एम एस धोनी ने विकेट्स के पीछे कमाल का प्रदर्शन कर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई। आखिरी गेंद पर बांग्लादेश को 2 रन की ज़रूरत थी। लेकिन धोनी ने चीते की फुर्ती दिखाकर बांग्लादेश के बैट्समैन को रन आउट कर दिया और एक भी रन नहीं लेने दिया।

बांग्लादेश की ओर से तमीम इकबाल ने सबसे ज्यादा 35 रन बनाए जबकि सब्बीर रहमान ने 26 रनों का योगदान दिया. भारत की ओर से अंतिम ओवर डालने वाले हार्दिक पंड्या, रविंद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन ने दो-दो विकेट लिए।अश्विन को उनकी शानदार बॉलिंग के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।.

सेमीफाइनल की दौड़ में कायम है भारत

ये जीत भारत की इस टूर्नामेंट में दूसरी जीत है। पहले मैच में न्यूजीलैंड से हारने के बाद भारत अपने अपने दूसरे मैच में पाकिस्तान को हराया था. दूसरी ओर, बांग्लादेश की यह लगातार तीसरी हार है. इससे पहे बांग्लादेश पाकिस्तान और आस्ट्रेलिया से हार चुका है।

इससे पहले बांग्लादेश के गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी के आगे टी 20 विश्‍व कप के मुकाबले में टीम इंडिया निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 146 रन ही बना सकी। भारत की तरफ से सर्वाधिक रन सुरेश रैना (30) बनाए।

टॉस हारने के बाद बैंटिंग के लिए आई टीम इंडिया की शुरुआत काफी धीमी रही और रोहित शर्मा व शिखर धवन की जोड़ी 7 ओवर में मात्र 42 रन ही बना सकी। रोहित (18) बड़ा शॉट खेलने के चक्‍कर में कैच आउट हो गए जबकि धवन (23) एलबीडब्‍ल्‍यू आउट हुए। हालांकि इसके बाद सुरेश रैना और विराट कोहली ने मिलकर अर्धशतकीय साझेदारी की लेकिन कोहली (24) के आउट होने के थोड़ी देर बार रैना (30) भी चलते बने।

हार्दिक पांडेय का बाउंड्री पर सौमया सरकार ने शानदार कैच पकड़ा और वह 15 रन बनाकर आउट हो गए। बांग्‍लादेश गेंदबाजों के आगे युवराज सिंह भी मात्र 3 रन बनाकर चलते बने। जड़ेजा भी कुछ खास नहीं कर सके और 12 रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

 बांग्लादेश के कप्तान मशरफे मुतर्जा ने टीम इंडिया के खिलाफ टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय किया।