मेलबर्न टेस्टः भारतीय गेंदबाज़ों के आगे कंगारू ढेर,151 रनों पर सिमटी पारी



न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (28 दिसंबर): मेलबर्न टेस्ट के तीसरे दिन जसप्रीत बुमराह की शानदार गेंदबाजी (6 विकेट) के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी को 151 रनों पर समेट दिया। इस तरह भारत ने पहली पारी में 292 रनों की बढ़त हासिल की। इससे पहले भारत ने पहली पारी 7 विकेट पर 443 रन बनाकर घोषित की थी।


ऑस्ट्रेलिया ने तीसरे दिन सुबह 8/0 से आगे खेलना शुरू किया। अभी स्कोर 24 तक ही पहुंचा था कि ईशांत शर्मा ने एरोन फिंच (8) को डेब्यू मैच खेल रहे मयंक अग्रवाल के हाथों शॉर्ट मिडविकेट पर झिलवाया। अभी स्कोर 36 तक ही पहुंचा था कि जसप्रीत बुमराह ने मार्कस हैरिस (22) को लांग लेग पर ईशांत के हाथों झिलवाया। अब उस्मान ख्वाजा और शॉन मार्श से बड़ी पारियों की उम्मीद थी लेकिन ये दोनों भी पहले सत्र में ही पैवेलियन लौट गए। जडेजा ने ख्वाजा (21) को शॉर्ट लेग पर मयंक के हाथों कैच कराया। शॉन मार्श पहले सत्र की अंतिम गेंद पर बुमराह के शिकार बने। उन्होंने 19 रन बनाए। मेजबान टीम 89 रनों पर 4 विकेट खोकर मुश्किल में घिर गई।


लंच के बाद बुमराह की यॉर्कर को ट्रेविस हेड स्टम्प्स पर खेल बैठे। उन्होंने 48 गेंदों में 20 रन बनाए। इसके बाद रवींद्र जडेजा ने शानदार टर्न होती गेंद पर मिचेल मार्श को स्लिप में अजिंक्य रहाणे के हाथों झिलवाया। उन्होंने 9 रन बनाए। कप्तान टिम पेन और पैट कमिंस ने इसके बाद पारी को संभालने की कोशिश की, इन्होंने सातवें विकेट के लिए 36 रन ही जोड़े थे कि मोहम्मद शमी ने कमिंस को बोल्ड कर दिया। उन्होंने 17 रन बनाए। बुमराह ने इसके बाद टिम पेन (22) को विकेटकीपर पंत के हाथों झिलवाया। उन्होंने इसके बाद नाथन लियोन (0) को एलबीडब्ल्यू कर पारी में अपना पांचवां शिकार किया।



वहीँ दूसरे दिन भारत ने पहली पारी में 215/2 से आगे खेलना शुरू किया। पुजारा ने लियोन की गेंद पर चौका लगाकर शतक पूरा किया। वे 280 गेंदों में 10 चौकों की मदद से शतक तक पहुंचे। यह उनका टेस्ट मैचों में 17वां शतक हैं। वे मेलबर्न में बॉक्सिंग डे टेस्ट में शतक लगाने वाले पांचवें भारतीय बल्लेबाज बने।

ऑस्ट्रेलिया को दिन की पहली सफलता स्टार्क ने दिलाई जब उन्होंने विराट कोहली को आउट किया। विराट उनकी शॉर्ट पिच गेंद पर अपर कट लगाने के प्रयास में थर्डमैन पर एरोन फिंच को कैच थमा बैठे। विराट ने 204 गेंदों पर 9 चौकों की मदद से 82 रन बनाए। उन्होंने पुजारा के साथ तीसरे विकेट के लिए 170 रनों की भागीदारी की। इसके बाद पुजारा भी ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक पाए, वे 106 रन बनाकर कमिंस की नीची रहती गेंद पर बोल्ड हुए। उन्होंने 319 गेंदों का सामना कर 10 चौके लगाए।


अब जिम्मेदारी अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा पर आ गई थी लेकिन रहाणे 34 रन बनाकर लियोन की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हुए। उन्होंने रोहित के साथ पांचवें विकेट के लिए 62 रन जोड़े। रोहित ने फिंच की गेंद पर 1 रन लेकर फिफ्टी पूरी की। रिषभ पंत 39 रन बनाकर स्टार्क की गेंद पर हवा में शॉट खेलकर ख्वाजा को कैच थमा बैठे। इसके बाद रवींद्र जडेजा मात्र 4 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर विकेटकीपर पेन को कैच दे बैठे और इसी के साथ भारतीय कप्तान विराट ने पारी घोषित कर दी। रोहित 114 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 63 रन बनाकर नाबाद रहे। इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन की समाप्ति तक पहली पारी में 6 ओवरों में बिना कोई विकेट खोए 8 रन बना लिए थे। मार्कस हैरिस 5 और एरोन फिंच 3 रन बनाकर क्रीज पर थे।