INDvsAUS: पर्थ टेस्ट से पहले टीम इंडिया को लगे ये दो बड़े झटके

न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (13 दिसंबर): भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच कल से पर्थ में दुसरा टेस्ट मैच शुरू होने जा रहा है। ओवल में खेले गए पहले टेस्ट में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 31 रनों से रहा दिया था। इस जीत के साथ भारत मौजूदा 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 1-0 से आगे है। वहीं दूसरे टेस्ट से लिए टीम मैनेजमेंट ने अंतिम 13 खिलाड़ियों के नाम का ऐलान कर दिया है। रोहित शर्मा और  रविचंद्रनअश्विन को अंतिम 13 में जगह नहीं मिला है। बल्लेबाज रोहित शर्मा और टीम के मुख्य स्पिनर रविचंद्रन अश्विन चोटिल होने के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुक्रवार से यहां शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में नहीं खेल पाएंगे। भारत के लिए यह दोहरा झटका है क्योंकि सलामी बल्लेबाज पृथ्वी साव अभी टखने की अपनी चोट से नहीं उबरे हैं।  बताया जा रहा है कि रविचंद्रन अश्विन के पेट में बाईं तरफ खिंचाव है। 32 साल के इस स्टार ऑफ स्पिनर ने एडिलेड टेस्ट में 6 (3+3) विकेट लिए थे। वहीं रोहित शर्मा को भी अंतिम 13 में शामिल नहीं किया गया है। आपको बता दें कि रोहित शर्मा ने ओवल टेस्ट की पहली पारी में 37 रन बनाए थे, जबकि दूसरी पारी में 1 रन बनाकर बनाए थे।टीम इंडिया के 13 खिलाड़ियों के नाम इस प्रकार हैं...विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव।

चोटिल सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ पूरी तरह ठीक नहीं हुए हैं। फिलहाल उन्हें बाहर रखा गया है। हनुमा विहारी टीम के अंतिम-11 में जगह बनाने की होड़ में शामिल हैं। स्पिन विभाग इस बार रवींद्र जडेजा के पास होगा। इस बार तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और उमेश यादव भी शामिल किए गए है, अब देखना है कि प्लेइंग इलेवन में किसे मौका मिलेगा। बीसीसीआई ने कहा है कि, ‘पृथ्वी शॉ के दाएं टखने में चोट लग गई थी और वह अच्छी प्रगति कर रहे हैं, लेकिन अब भी उनका उपचार चल रहा है। अश्विन के पेट के बाएं हिस्से की मांसपेशियों में खिंचाव आ गया है और अभी उनका उपचार चल रहा है। एडिलेड में पहले टेस्ट मैच के दौरान रोहित की पीठ के निचले हिस्से में दर्द होने लगा था और उनका भी उपचार चल रहा है, वह भी दूसरे टेस्ट मैच में नहीं खेल पाएंगे।’

आपको बता दें कि दूसरा टेस्ट पर्थ के नए स्टेडियम में खेला जाएगा। इस स्टेडियम में सिर्फ दो अंतरराष्ट्रीय मैच खेले गए हैं। यह इस मैदान पर पहला टेस्ट मैच है। बताया जा रहा है कि इस पिच से तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी।